Saturday , November 27 2021
Home / MainSlide / 2022 तक आजादी के दीवानों के सपनों के मुताबिक बना देंगे देश को – मोदी

2022 तक आजादी के दीवानों के सपनों के मुताबिक बना देंगे देश को – मोदी

बाड़मेर 16 जनवरी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगो को विश्वास दिलाया हैं कि वह 2022 तक आजादी के दीवानों के सपनों के मुताबिक देश को बना देंगे।

श्री मोदी ने आज राजस्थान में बाड़मेर के पचपदरा में राजस्थान तेल शोधन संयंत्र का शुभारम्भ करने के बाद जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि हम सब का दायित्व है कि जो सपने आज़ादी के दीवानों ने देखे थे, वैसा हिन्दुस्तान हम 2022 तक उनके चरणों में समर्पित करें।उन्‍होंने राज्य के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस पर भी हमला बोला और कहा कि सूखा और कांग्रेस राजस्थान में साथ-साथ यात्रा करते हैं।

उन्होने तेल शोधन संयंत्र का उल्लेख करते हुए कहा कि इस परियोजना से बड़ी संख्‍या में लोगों के जीवन में प्रसन्‍नता और खुशहाली आएगी।उन्होने कहा कि..संक्रांत के बाद उन्‍नति अंतर्निहित होती है। राजस्‍थान की धरती पर पूरे हिन्‍दुस्‍तान को ऊर्जावान बनाने का एक अहम प्रयास एक अहम प्रकल्‍प उसका आज कार्य आरंभ हो रहा है..।

प्रधानमंत्री ने विश्‍वास जताया कि आज शुरू किया गया कार्य 2022 तक पूरा कर लिया जाएगा।उन्होने कहा कि..ये समय संकल्‍प से सिद्धि का समय है। आज यहां पर आपने संकल्‍प लिया है कि 2022 तक इस रिफाइनरी का कार्य आरंभ कर देंगे। मुझे विश्‍वास है ये संकल्‍प सिद्धि बनकर के रहेगा और जब देश आजादी के 75 साल मनाता होगा तब यहां से देश को नई ऊर्जा मिलना प्रारंभ हो जाएगा..।पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्‍द्र प्रधान और मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

श्री मोदी ने जिस तेल शोधन संयंत्र का शुभारम्भ किया,यह राज्य का पहला तेलशोधक कारखाना है। 43हज़ार करोड़ रुपये की लागत की यह परियोजना हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (एच.पी.सी.एल.)और राजस्थान सरकार का संयुक्त उद्यम है।यह परियोजना अगले चार वर्षों में पूरी होगी और इससे राज्‍य को 34 हजार करोड़ रूपये की अतिरिक्‍त आय होगी। इससे हज़ारों प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोज़गार के अवसर सृजित होने की आशा है।