Thursday , May 13 2021
Home / MainSlide / कोरोना के बावजूद प्रत्यक्ष कर संग्रह में पांच प्रतिशत की वृद्धि

कोरोना के बावजूद प्रत्यक्ष कर संग्रह में पांच प्रतिशत की वृद्धि

नई दिल्ली 09 अप्रैल।कोविड महामारी की चुनौतियों के बावजूद देश में पिछले वित्तीय वर्ष के दौरान प्रत्यक्ष कर संग्रह में लगभग पांच प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

वित्त मंत्रालय ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्रत्यक्ष कर संग्रह के अस्थाई आंकडों के अनुसार नौ लाख 45 हजार करोड रूपये का निबल कर संग्रह हुआ। प्रत्यक्ष कर संग्रह में निगम कर और व्यक्तिगत आयकर शामिल हैं।

मंत्रालय ने बताया कि पिछले वित्तीय वर्ष में अग्रिम कर संग्रह लगभग 6.7 प्रतिशत की वृद्धि के साथ चार लाख 95 हजार करोड रूपये रहा। वर्ष 2020-21 के दौरान दो लाख 61 हजार करोड रूपये का रिफंड जारी किया गया जबकि वित्तीय वर्ष 2019-20 में रिफंड राशि एक लाख 83 हजार करोड रूपये थी।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com