Tuesday , November 30 2021
Home / MainSlide / हिमाचल प्रदेश में चुनाव प्रचार चरम पर,कल प्रचार का आखिरी दिन

हिमाचल प्रदेश में चुनाव प्रचार चरम पर,कल प्रचार का आखिरी दिन

शिमला 06 नवम्बर।हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान चरम पर पहुंच गया है।राज्य में कल प्रचार का अन्तिम दिन है। राज्य में एक ही चरण में 09 नवम्बर को वोट डाले जाएंगे।

भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और अन्य पार्टियां मतदाताओं का लुभाने में लगी हैं।कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज पोंटा साहिब में एक रैली में हिमाचल प्रदेश और गुजरात के विभिन्न विकास आंकड़ों की तुलना की। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह सरकार ने गुजरात सरकार की तुलना में कहीं बेहतर काम किया है।श्री गांधी ने चम्बा और नगरौटा में भी रैलियां की।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का भी पहले आज प्रचार का कार्यक्रम तय था लेकिन खराब स्वास्थ के कारण उनका कार्यक्रम रद्द हो गया।भाजपा की ओर से केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी, उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत प्रचार में जुटे हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोलन जिले के बड्डी में एक रैली में हिमाचल प्रदेश सरकार पर राज्य में विभिन्न प्रकार के माफिया को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।केन्द्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने शिमला जिले के रोहरू विधानसभा क्षेत्र के चिलगांव में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने पिछले पांच वर्षों में कोई भी विकास कार्य नहीं किया है।

दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों भाजपा व कांग्रेस के राज्य अध्यक्ष चुनाव प्रचार में अपने अपने निर्वाचन क्षेत्रों तक ही सीमित होकर रह गए हैं। भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती ऊना सदर से चुनाव लड़ रहे है जबकि हमीरपुर जिले के नागैान विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस अध्यक्ष ठाकुर सुखविंदर सिंह घिरे हुए है।वीरभद्र सिंह ने कल हमीरपुर जिले का दौरा किया।मगर उनके क्षेत्र में चुनाव प्रचार नहीं किया।