Sunday , October 2 2022
Home / देश-विदेश / स्‍वतंत्रता दिवस के बाद होगा बिहार में महागठबंधन की नई सरकार का कैबिनेट विस्‍तार

स्‍वतंत्रता दिवस के बाद होगा बिहार में महागठबंधन की नई सरकार का कैबिनेट विस्‍तार

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के नेतृत्व  में गठित महागठबंधन की सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार यथाशीघ्र होगा। गुरुवार को विधानसभा (Bihar Assembly) के समीप स्थित शहीद स्मारक परिसर में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद पत्रकारों से बातचीत के क्रम में उन्होंने यह बात कही। संकेत यह है कि मंत्रिमंडल विस्तार 15 अगस्त के तुरंत बाद होगा। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार के गिरने को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) की तरफ से नीतीश कुमार पर किए जा रहे हमलों के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि जो मन में आता है, बोलते रहें; कोई फर्क नहीं पड़ता। मुख्यमंत्री के साथ उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने भी शहीदों को श्रद्धांजलि दी।

 

बीजेपी पर साधा निशाना, सुशील मोदी पर भी कसा तंज

बीजेपी की तरफ से नीतीश कुमार पर की जा रही टिप्पणियों के बारे में जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जो मन में आता है, बोलते रहिए। बीजेपी नेता सुशील मोदी का नाम लिए बगैर कहा कि एक आदमी मेरे बारे में कह रहा था कि मैं उपराष्ट्रपति बनना चाहता हूं। यह बिल्कुल ही बोगस बात है। हमारी ऐसी कोई इच्छा नहीं थी। नीतीश कुमार ने कहा कि राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के चुनाव में उनकी पार्टी ने सहयोग किया। दोनों चुनावों के समाप्त होने के बाद ही हमलोगों ने बैठक की। सुशील मोदी को उनकी पार्टी ने कुछ नहीं बनाया तो वे इस तरह की बात बोल रहे हैं। मेरे खिलाफ वे इतना बोलते रहें कि उनको जगह मिल जाए।

विधानसभा चुनाव में जेडीयू को हराने में लगी थी बीजेपी

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग मुझपर बोल रहे हैं, उनके विषय में  कुछ नहीं बोलना है। हम तो 2020 विधानसभा चुनाव के बाद ही मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहते थे। हमारे दल के लोग उनके (बीजेपी के) उम्मीदवारों को जिताने में तो वे लोग हमारी पार्टी के उम्मीदवारों को हराने में लगे थे।

जितना प्रचार करना हैं करते रहें, इससे कुछ नहीं होगा

नीतीश कुमार ने कहा कि उनके दल के लोगों की बीजेपी के साथ रहने की इच्छा नहीं थी। इसी वजह से वे एनडीए से अलग होकर राष्‍ट्रीय जनता दल के साथ आ गए। अब वे मिलकर काम करेंगे। पूरी मजबूती के साथ विपक्ष के सभी लोग विपक्ष की एकजुटता को आगे बढ़ाएंगे। जो लोग पावर में हैं, जितना प्रचार करना हैं करते रहें। इससे कुछ नहीं होगा।

विधानसभा अध्यक्ष के इस्तीफे के बारे में कही ये बात

विधानसभा अध्यक्ष के इस्तीफे के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसके समर्थन से थे, वे लोग चले गए। यह देखना चाहिए कि नियम-कानून भी कोई चीज है।

तेजस्‍वी बाेले: एनडीए को 2024 के चुनाव की है चिंता

शहीद दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम के बाद मुख्‍यमंत्री के साथ रहे उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भी संवाददाताओं से बातचीत के क्रम में कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन पूरी मजबूती के साथ खड़ा है। दरअसल, एनडीए की चिंता 2024 के लोकसभा चुनाव की है।

जो डरे उसे डराती बीजेपी ईडी-आईटी भी लगाती है

तेजस्वी ने कहा कि देश में क्या हो रहा है, यह भी लोग देख रहे हैं। महाराष्ट्र और झारखंड में क्या हुआ इसे लोगों ने देखा है। साफ-सुथरी राजनीति होनी चाहिए। बीजेपी का चाल -चरित्र तो उजागर है। जो डर जाएगा उसे डराओ और ईडी-आईटी लगा दो। जो बिक जाए, उसे खरीदो।