Monday , May 23 2022
Home / MainSlide / सदन में विपक्ष का हंगामा, विधानसभा की कार्यवाही स्थगित

सदन में विपक्ष का हंगामा, विधानसभा की कार्यवाही स्थगित

रायपुर 02 जुलाई।छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज शून्यकाल में सीडी कांड का मुद्दा उठाते हुए कांग्रेस ने सदन में जमकर हंगामा किया।

कांग्रेसी विधायकों ने रिंकू खनूजाके हत्यारों को गिरफ्तार करने को लेकर नारेबाज़ी करते हुए गर्भगृह में धरने पर बैठ गए। गर्भगृह में आने के कारण 34 कांग्रेस विधायक स्वमेव निलंबित हो गए। विपक्ष के नारेबाजी के बीच अध्यक्ष नेसदन की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित कर दिया।

विधानसभा में शून्यकाल में विपक्ष के कांग्रेस विधायक भूपेश बघेल ने रिंकू खनूजा की मौत का मामला उठाया। उन्होंने कहा कि इस गंभीर मामले में काम रोककर चर्चा होनी चाहिए। वहीं रिंकू खनूजाकी पत्नी ने भी मामले की जांच के लिए पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि रिंकू खनूजा से सीबीआई कथित सेक्स सीडी मामले में पूछताछ कर रही थी। पूछताछ के दूसरे दिन रिंकूअपनी दुकान में मृत अवस्था में मिला। कथित तौर पर कहा गया कि रिंकू ने डर के कारण फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है।

उन्होंने रिंकू की मौत पर सवाल उठाते हुए इसे हत्या बताया है। हालांकि पुलिस अभी मामले की जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि मृतक की पत्नी ने एसपी को पत्र लिखा है कि ये आत्महत्या नहींबल्कि हत्या है। इस आत्महत्या मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस की भूमिका बेहद संदिग्ध है। कांग्रेस विधायक कवासी लखमा ने कहा कि छत्तीसगढ़ में आम आदमी सुरक्षित नहीं है।

इस पर राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने कहा कि सीबीआई केंद्र सरकार के अधीन काम करने वाली संस्था है।सीबीआई जिस मामले की जांच कर रही है, उसकी चर्चा सदन में नहीं कराई जा सकती। जो मामला विधानसभा के अधिकार क्षेत्र में नहीं है, उस पर चर्चा नहीं कराई जा सकती।

विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने स्थगन अग्राह्य कर दिया। इसके बाद विपक्ष ने सदन में नारेबाजी शुरू कर दी। जमकर हंगामा होते देख अध्यक्ष को सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिएस्थगित करनी पड़ी।

सदन की कार्यवाही दोबारा शुरू हुई। एक बार फिर सीडी कांड पर चर्चा करने की मांग को लेकर सदन में जोरदार नारेबाजी शुरू हो गई। कांग्रेसी विधायकों ने मामले में सीबीआई जांच पर सवाल खड़े करदिए। कांग्रेस विधायकों ने आरोप लगाया कि राज्य सरकार की मौत के मामले में गम्भीर नहीं है।वहीं इन सब हंगामे के बीच अध्यक्ष कामकाज निपटाते रहे।

कांग्रेस ने सीडी कांड का मामला उठाते हुए कहा कि रिंकू खन्ना की मौत आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या है और सीबीआई की जांच संदिग्ध है। इस दौरान कांग्रेसी विधायकों ने रिंकू खनूजा के हत्यारों को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर नारेबाज़ी करते हुए गर्भगृह में 34 कांग्रेस विधायक धरने पर बैठे गए। कांग्रेस विधायकों की नारेबाजी के बीच विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्रवाई कल तक के लिए स्थगित करने की घोषणा कर दी।