Thursday , May 26 2022
Home / MainSlide / संसद के दोनो सदनों की कार्यवाही आज भी नही चल सकी

संसद के दोनो सदनों की कार्यवाही आज भी नही चल सकी

नई दिल्ली 27 मार्च।संसद के दोनों सदनों की कार्यवाही ऑल इंडिया अन्‍ना डी एम के सदस्‍यों की कावेरी नदी प्रबंधन बोर्ड की मांग के समर्थन में विरोध के कारण दिनभर के लिए स्‍थगित कर दी गई।

लोकसभा और राज्‍यसभा की कार्यवाही कई बार थोड़े थोड़े समय के लिए रोकी गई।लोकसभा में पहले स्‍थगन के बाद कार्यवाही फिर शुरू होने पर ऑल इंडिया अन्‍ना डी एम के सदस्‍य नारे लगाते हुए सदन के बीचोंबीच चले गये। कांग्रेस, वामपंथी दल, टी डी पी और वाई एस आर कांग्रेस के सदस्‍य भी अविश्‍वास प्रस्‍ताव के समर्थन में तख्तियां दिखा रहे थे।

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि 50 से ज्‍यादा सदस्‍य अविश्‍वास प्रस्‍ताव के समर्थन में हैं और वे इस पर चर्चा चाहते हैं। इसके जवाब में संसदीय कार्यमंत्री अनन्‍त कुमार ने कहा कि सरकार अविश्‍वास प्रस्‍ताव का सामना करने को तैयार है क्‍योंकि उसे संसद के भीतर और बाहर पूरा समर्थन प्राप्‍त है। सदन में शोर शराबे के बीच अध्‍यक्ष सुमित्रा महाजन ने उत्‍तेजित सदस्‍यों से बार बार अपनी सीटों पर बैठने का अनुरोध किया। इसके बाद भी हंगामा जारी रहने पर अध्‍यक्ष ने सदन की कार्यवाही दिन भर के लिए स्‍थगित कर दी।

राज्‍यसभा में भी ऐसी ही स्थिति रही। ए आई ए डी एम के सदस्‍यों के विरोध के कारण सभापति एम0 वैंकेयानायडू ने शुरू में 15 मिनट के लिए कार्यवाही स्‍थगित कर दी। सदन की स्थिति को देखते हुए श्री नायडू ने विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद और सदन के नेता अरूण जेटली से पूछा कि क्‍या सदन इतना मजबूर है कि कार्यवाही न चल पाये।

पहले स्‍थगन के बाद बैठक फिर शुरू होने पर ए आई ए डी एम के उत्‍तेजित सदस्‍य अपनी सीटों पर खड़े होकर नारे लगाते रहे और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के हस्‍तक्षेप की मांग करने लगे। श्री नायडू ने इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए कार्यवाही कल तक के लिए स्‍थगित कर दी।