Sunday , January 23 2022
Home / MainSlide / लखमा के सदन में मौजूद नही होने एवं अंडा को लेकर विधानसभा में हंगामा

लखमा के सदन में मौजूद नही होने एवं अंडा को लेकर विधानसभा में हंगामा

रायपुर 15 जुलाई।छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज उद्योग मंत्री कवासी लखमा के सदन में अनुपस्थित रहने तथा मध्यान्ह भोजन में अंडा दिए जाने के निर्णय के विरोध में विपक्षी सदस्यों ने हंगामा किया।

श्री लखमा की जगह पर वन एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर के उनसे पूछे प्रश्नों का उत्तर देने को लेकर मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने कड़ा विरोध जताया और सदन से बहिर्गमन किया। मंत्री मोहम्मद अकबर प्रश्नोत्तरकाल में उद्योग एवं आबकारी मंत्री कवासी लखमा के विभाग से सम्बधित प्रश्न का उत्तर देने जैसे ही खड़े हुए,भाजपा सदस्य शिवरतन शर्मा एवं अजय चन्द्राकर ने  इसका विरोध किया।उन्होने मंत्री के लखमा के सदन में अनुपस्थित होने पर सवाल उठाया।श्री अकबर ने बताया कि मंत्री जरूरी काम से बाहर गए है,और नियमानुसार उन्होने इसकी सूचना भी दी है।

विपक्ष के नेता धरम कौशिक ने कहा कि उद्योग मंत्री सक्षम मंत्री है और पुराने कद्दावर सदस्य है।उन पर विपक्ष को पूरा विश्वास है पर सत्तारूढ़ कांग्रेस को उन पर विश्वास नही है।उन्होने कहा कि लखमा जो समझे वह उत्तर उन्हे देना चाहिए,मंत्री को वह सभी सहयोग के लिए तैयार है।उन्होने कहा कि एक गलत परम्परा बनाई जा रही है,इसे नही चलने दिया जायेगा।अध्यक्ष डा.चरणदास महंत ने आपत्ति कर रहे भाजपा सदस्यों को शान्त करवाने का प्रयास कर रहे थे कि भाजपा सदस्यों ने विरोध स्वरूप सदन से बहिर्गमन किया।

विधानसभा में स्कूलों में मध्यान्ह भोजन में बच्चों को अंडा दिए जाने के निर्णय का विरोध करते हुए विपक्षी सदस्यों द्वारा किए हंगामे के कारण सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी।जनता कांग्रेस के धर्मजीत सिंह ने शून्यकाल में सरकार के स्कूलों में मध्यान्ह भोजन में अंडा दिए जाने का मामला उठाते हुए कहा कि इसे लेकर लोग सड़क पर उतर कर आन्दोलित है।उन्होने कहा कि गुरू घासीदास के अनुयायी एवं कबीरपंथ को मानने वाले इसके खिलाफ है।उन्होने सरकार से यह निर्णय वापस लेने का अनुरोध किया।

भाजपा सदस्य बृजमोहन अग्रवाल,अजय चन्द्राकर एवं शिवरतन शर्मा ने भी सरकार के इस निर्णय को गलत बताते हुए इसका विरोध किया और इसे वापस लेने को कहा।