Sunday , November 28 2021
Home / MainSlide / वासेनार संधि संगठन ने भारत को नए सदस्य के रूप में किया शामिल

वासेनार संधि संगठन ने भारत को नए सदस्य के रूप में किया शामिल

नई दिल्ली 08 दिसम्बर।एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में विशिष्ट निर्यात नियंत्रण के लिए बने वासेनार संधि संगठन ने भारत को नए सदस्य के रूप में शामिल करने का फैसला किया है।

भारत ने भले ही परमाणु अप्रसार संधि पर हस्ताक्षर नही किए हैं, लेकिन इस निर्यात नियंत्रण संगठन की सदस्यता से परमाणु अप्रसार के क्षेत्र में भारत की विश्वसनीयता बढ़ेगी। इससे 48 सदस्यों के परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह में भारत के प्रवेश का दावा मजबूत होने की उम्मीद है।

संगठन ने बयान में कहा है कि सदस्यता के मौजूदा आवेदनों पर गौर करने के बाद भारत को शामिल करने का फैसला किया गया है।औपचारिकताएं पूरी होते ही भारत इस संगठन का 42वां सदस्य बन जाएगा।वासेनार संगठन पारंपरिक हथियारों और दोहरे उपयोग की वस्तुओं और प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण में अधिक पारदर्शिता और उत्तरदायित्व को बढ़ावा देने में अहम भूमिका निभाता है।

पिछले साल जून में भारत मिसाइल प्रौद्योगिकी नियंत्रण व्यवस्था-एम.टी.सी.आर. का पूर्ण सदस्य बना था जो निर्यात नियंत्रण का एक अन्य महत्वपूर्ण संगठन है। अमरीका के साथ असैन्य परमाणु समझौते के बाद से ही भारत परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह-एनएसजी में शामिल होने का प्रयास कर रहा है।