Wednesday , July 6 2022
Home / देश-विदेश / रोडवेज कर्मचारियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता देने की उठने लगी मांग…

रोडवेज कर्मचारियों को बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता देने की उठने लगी मांग…

बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता देने समेत अन्य मांगों पर उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधिमंडल ने परिवहन निगम निदेशक मंडल के अध्यक्ष आनंद वर्धन से मुलाकात की। इस दौरान यूनियन ने रोडवेज के प्रबंध निदेशक रोहित मीणा से भी मुलाकात की।
कर्मचारी यूनियन के प्रदेश महामंत्री अशोक चौधरी के साथ उप महामंत्री हरेंद्र ङ्क्षसह, प्रांतीय संयुक्त मंत्री केपी सिंह जी एवं नैनीताल मंडल के अध्यक्ष एलडी पालीवाल की ओर से की गई मुलाकात में रोडवेज के नियमित व विशेष श्रेणी संविदा कर्मचारियों को लंबित महंगाई भत्ते के भुगतान के साथ ही तीन प्रतिशत बढ़े हुए महंगाई भत्ते समेत भुगतान की मांग की। बताया गया कि इसे लेकर प्रबंध निदेशक ने आदेश कर दिया है और एक दिन में महंगाई भत्ता में वृद्धि होने के साथ ही विशेष श्रेणी संविदा कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि कर दी जाएगी। यूनियन ने निगम के अध्यक्ष से शीघ्र बैठक बुलाकर निगम हित में चर्चा करने की मांग भी रखी। परिषद ने किया प्रदर्शन रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद की पर्वतीय डिपो कार्यशाला की कार्यकारिणी ने विभिन्न मांगों को लेकर बुधवार को प्रदर्शन किया। इस कारण करीब एक घंटे तक डिपो में बसों का आवागमन प्रभावित रहा। डिपो कर्मचारियों ने विशेष श्रेणी तकनीकी कर्मियों को नियमित करने, महंगाई भत्ते समेत भवन भत्ता देने और वर्ष 2003 से रुके महंगाई भत्ते के एरियर का भुगतान करने की मांग की। आरोप लगाया कि परिषद की ओर से पूर्व में भी प्रबंधन को चेताया गया, लेकिन अधिकारी मांगों पर गौर नहीं कर रहे। इस दौरान क्षेत्रीय मंत्री राकेश पेटवाल व शाखा अध्यक्ष भूपेंद्र बुटोला व शाखा मंत्री अनिल धीमान आदि मौजूद रहे। ———————– जल संस्थान कर्मियों ने थामा महासंघ का हाथ उत्तराखंड जल संस्थान कर्मचारी संघ और उत्तराखंड जल संस्थान कर्मचारी संगठन संयुक्त मोर्चा ने राज्य निगम कर्मचारी-अधिकारी महासंघ उत्तराखंड का हाथ थाम लिया है। अब अपनी मांगों और समस्याओं के निस्तारण के लिए महासंघ के बैनर तले जल संस्थान के कार्मिक भी संघर्ष करेंगे। खासकर राज्य कर्मियों की तर्ज पर निगमों व उपक्रमों में सुविधाएं दिए जाने को लेकर आवाज बुलंद की जाएगी। राज्य निगम कर्मचारी-अधिकारी महासंघ के महासचिव बीएस रावत ने कहा कि महासंघ लंबे समय से राज्य के सार्वजनिक क्षेत्रों, स्थानीय निकायों और उपक्रमों के कार्मिकों की समस्याओं को लेकर संघर्ष कर रहा है। इसमें वन विकास निगम कर्मचारी संघ, गढ़वाल मंडल कर्मचारी संघ, कुमाऊं मंडल कर्मचारी संगठन, तराई बीज निगम कर्मचारी संघ, डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के अलावा कई विभागीय संगठन एक साथ मिलकर लड़ाई लड़ रहे हैं। जल संस्थान कर्मचारी संघ व जल संस्थान कर्मचारी संगठन संयुक्त मोर्चा महासंघ की मांगों और आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं। अब दोनों संगठनों ने औपचारिक रूप से महासंघ से संबद्ध होने का एला