Thursday , December 2 2021
Home / छत्तीसगढ़ / रेल लाइन परियोजनाओं के निर्माण कार्यो में गति लाने के निर्देश

रेल लाइन परियोजनाओं के निर्माण कार्यो में गति लाने के निर्देश

रायपुर 09नवम्बर।छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव विवेक ढांड ने अधिकारियों से रेल लाईन परियोजनाओं के निर्माण कार्यो में गति लाने के निर्देश दिए है।

बैठक में ईस्ट-रेल कॉरिडोर, ईस्ट-वेस्ट-रेल कॉरिडोर, रावघाट-जगदलपुर रेल लाईन, सहित विभिन्न रेल्वे अंडर ब्रिज एवं ओवर ब्रिज की प्रगति की समीक्षा की गयी।मुख्य सचिव ने रेल परियोजनाओं में गति लाने के लिए सर्वे, मुआवजा वितरण एवं भूमि हस्तांतरण तथा पॉवर लाईन विस्तार के लिए संबंधित जिलों के कलेक्टरों को वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।बैठक में वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के जरिये संबंधित जिला कलेक्टर एवं वन अधिकारियों ने रेल लाईन परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी दी।

बैठक में कलेक्टर रायगढ़ ने बताया कि ईस्ट रेल कॉरिडोर के लिए अब तक 76 प्रतिशत भूमि-मुआवजा का वितरण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि पॉवर लाईन ट्रांसमिशन का कार्य किया जा रहा है। मुख्य सचिव ने मुआवजा वितरण, पॉवर लाईन ट्रांसमिशन और भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई निर्धारित समय-सीमा में सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

समीक्षा के दौरान मुख्य सचिव ने रेल्वे की खाली जमीन पर तालाब निर्माण एवं वृक्षारोपण के कार्य मनरेगा के तहत कराने के लिए शीघ्र कार्रवाई कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने रावघाट से जगदलपुर रेल लाईन के लिए भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई दिसम्बर 2017 तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए। बैठक में नारायणपुर से रावघाट रेल लाईन के लिए सर्वे का कार्य शीघ्र कराये जाने के निर्देश भी दिए।

बैठक में राजधानी रायपुर सहित प्रदेश में निर्माणाधीन 11 रेल्वे अंडर-ओवर ब्रिज की समीक्षा की गयी। इन्हें जून 2018 तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। इनमें उरकुरा-सरोना ओवर ब्रिज, तेलघानी नाका-रामनगर अंडर ब्रिज, तिल्दा ओवर ब्रिज, गोगांव अंडर ब्रिज, दुर्ग-पाटन अंडर एवं ओवर ब्रिज, भिलाई-नेहरू नगर अंडर ब्रिज, सिरसागेट अंडर ब्रिज, चांपा ओवर ब्रिज, लालखदान ओवर ब्रिज, खोखसा ओवर ब्रिज और डोंगरगढ़ अंडर ब्रिज शामिल हैं।

बैठक में छत्तीसगढ़ सड़क विकास निगम द्वारा रायपुर रेल्वे स्टेशन तेलीबांधा से केन्द्री के बीच छोटी रेल लाईन के स्थान पर फोर लेन एक्सप्रेस-वे तथा तीन फ्लाई ओवर और एलीवेटेड कॉरिडोर के संबंध में भी चर्चा की गयी।