Wednesday , December 1 2021
Home / खास ख़बर / राम रहीम के दोषी करार देने के बाद हुई हिंसा में 30 मरे,250 घायल

राम रहीम के दोषी करार देने के बाद हुई हिंसा में 30 मरे,250 घायल

पंचकुला 25 अगस्त। हरियाणा में पंचकुला में सीबीआई की विशेष अदालत द्वारा डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दुष्‍कर्म का दोषी ठहराये जाने के बाद हरियाणा और पंजाब में  भड़की हिंसा में 30लोगो की मौत हो गई।लगभग 250 लोग घायल हुए हैं।बड़ी संख्या में वाहनों को आग लगाकर नुकसान पहुंचाया गया है।

सीबीआई की विशेष अदालत के न्‍यायाधीश जगदीप सिंह द्वारा गुरमीत राम रहीम को दोषी करार दिए जाने की खबर बाहर मौजूद डेरा समर्थकों को जैसे पता चली उसके बाद समर्थक उग्र हो गए। समर्थकों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवा में गोलियां चलानी पड़ीं और आंसू गैस छोड़नी पड़ी।कुछ उग्र समर्थकों ने कई निजी टीवी चैनलों के ओबी वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया।हमले में एक टीवी चैनल का पत्रकार घायल हो गया।पंचकुला में भी डेरा समर्थकों में पांचतारा हालीडे होटल में आग लगा दी गई।पंचकुला में कर्फ्यू लगा दिया गया है।

पंजाब के कई शहरों में हिंसा एवं आगजनी की घटनाएं होने की खबर है।पंजाब के कई शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है।कई रेलवे स्टेशनों में आग लगाने की भी खबर है।सिरसा से मिली खबरों के अनुसार डेरा मुख्यालय पर लाखों समर्थकों की भीड़ मौजूद है।वहां भी बहुत ही संवेदनशील स्थिति है।   सिरसा में कानून और व्‍यवस्‍था बनाए रखने के लिए हिसार से सेना की दो टुकडि़यां बुलाई गई हैं।हिंसा भड़कने की खबर के बाद बठिंडा में कर्फ्यू लगा दिया गया है।डेरा मुख्‍यालय सिरसा में सुरक्षा की जिम्‍मेदारी सेना ने संभाल ली है।पंचकुला और सिरसा में विद्युत आपूर्ति बंद कर दी गई है, ताकि ब्राडबैंड के जरिए इंटरनेट के इस्‍तेमाल पर रोक लगाई जा सके।

पंचकूला में सबसे ज्‍यादा नुकसान हुआ। 28 लोग मारे गए और करीब 250 लोग घायल हो गए। पंचकूला में 25 वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया और 20 से अधिक वाहनों को जिसमें ओबी वैन, एंबुलेंस और फायर टेंड्र भी शामिल थे,नुकसान पहुंचाया गया। हालांकि पंचकूला में सेना को भी बुलाया गया था लेकिन डेरा अनुयायियों ने आयकर कार्यालय,एक होटल और पेट्रोल पंप को आग के हवाले किया। सिरसा में दो लोग हिंसा में मारा गया और पांच लोग घायल हो गए। सिरसा में भी उसके बाद सेना को बुला लिया गया। अब स्थिति काबू में बताई जा रही है। और डेरा अनुयायियों ने घरों में लौटना शुरू कर दिया है।

हरियाणा के पुलिस महानिदेशक ने पत्रकारों से बातचीत में स्थिति में रात्रि 10 बजे के बाद स्थिति के पूरी तरह नियंत्रित हो जाने का दावा किया।उन्होने बताया कि पुलिस ने राम रहीम के साथ आए लोगो के पास तीन राइफल एवं तीन पिस्टल को बरामद किया गया है।उन्होने बताया कि 550 लोगो को पुलिस ने हिरासत में लिया है,और उनका वेरीफिकेशन किया जा रहा है। उन्होने इनमें सभी उपद्रवी नही है।

इस बीच राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी डेरा समर्थकों ने कई बसों को आग लगा दी।आनन्द बिहार रेलवे स्टेशन पर ट्रेन की दो बोगियों में आग लगा दी गई है।इसके साथ ही राजस्थान से भी आगजनी एवं तोडफोड की खबरे आ रही है।

दोनों राज्‍यों में हिंसा की खबरों के मद्देनजर उत्‍तर प्रदेश के सीमावर्ती जिलों में भी निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। मुजफ्फरनगर, शामली और बागपत में धारा 144 लगा दी गई है। पुलिस को सतर्क कर दिया गया है, ताकि राज्‍य और आसपास के इलाकों में हिंसा न फैल सके। बागपत में डेरा के आश्रम में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

राजस्‍थान के श्रीगंगानगर में कुछ अज्ञात लोगों ने एक वाहन को आग के हवाले कर दिया।श्रीगंगानगर जिला मुख्‍यालय पर आगजनी एवं हिंसा की छुटपुट घटनाएं हुई हैं। डेरा सच्‍चा सौदा समर्थकों ने अनुप भरथला मार्ग पर जाम लगाने की कोशिश की। कोर्ट के फैसले के बाद जिला मुख्‍यालय एवं कई अन्‍य कस्‍बों के बाजार बंद हो गए। जिले में राम रहीम के समर्थकों की बडी संख्‍या को देखते हुए कडे सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं।जिले में लगभग तीन हजार अतिरिक्‍त सुरक्षा कर्मी तैनात किए गए हैं। हनुमानगढ जिले में भी तैनाव की स्थिति बनी हुई है।

उत्‍तर रेलवे ने हरियाणा जाने वाली लगभग ढाई सौ रेलगाडियां रद्द कर दी हैं। दिल्‍ली से रोहतक जाने वाली सभी रेलगाडियां नहीं चलेगीं।