Tuesday , January 25 2022
Home / छत्तीसगढ़ / रमन ने फोरलेन सड़कों में सुरक्षित मार्ग विभाजक बनवाने के दिए निर्देश

रमन ने फोरलेन सड़कों में सुरक्षित मार्ग विभाजक बनवाने के दिए निर्देश

रायपुर 28 दिसम्बर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अधिकारियों को प्रदेश के विभिन्न शहरों के बीच से गुजरने वाली फोरलेन और सिक्सलेन सड़कों के बीचो-बीच जनसुरक्षा की दृष्टि से सुरक्षित मार्ग विभाजक (डिवाइडर) बनवाने और उनमें स्ट्रीट लाइट लगवाने के निर्देश दिए है।

डा.सिंह आज यहां मंत्रालय में लोक निर्माण विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि घनी आबादी वाले क्षेत्रों में जगह की उपलब्धता के आधार पर मार्ग विभाजक बनवाकर उनमें पर्याप्त संख्या में स्ट्रीट लाइट लगवाना चाहिए।उन्होने कहा कि इन मार्ग विभाजकों के दोनों किनारों पर रेलिंग भी लगायी जाए, ताकि मनुष्य और जानवर उन्हें पार न कर सकें। इससे यातायात सुगम और सुरक्षित होगा।

उन्होने विभाग के स्वीकृत और निर्माणाधीन कार्यो की समीक्षा करते हुए इस प्रकार के सभी कार्यों को पूरी गुणवत्ता के साथ युद्ध स्तर पर पूर्ण करने के भी निर्देश दिए।बैठक में लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन सिंह, वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह, लोक निर्माण विभाग के सचिव अनिल राय और अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

बैठक में विभागीय अधिकारियों ने बताया कि नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जगदलपुर भोपालपटनम मार्ग, सुकमा कोंटा मार्ग में सड़क निर्माण सहित अन्य क्षेत्रों में का कार्य प्रगति पर है। रायपुर, बिलासपुर के मध्य राष्ट्रीय राजमार्ग के अंतर्गत 126 किलोमीटर का निर्माण कराया जा रहा हैं। जिसमें रायपुर, धरसींवा, देवरी, तरपोंगी, सिमगा, लिमतरा, बैतलपुर, सरगांव एवं बिलासपुर 60 किलोमीटर की बायपास सम्मिलित है।

इसके साथ ही बस्तर में जगदलपुर-सुकमा राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-221 में नेंगागार से झीरमघाटी के मध्य 18 पुलिया का निर्माण पूर्ण हो चुका है। इसी तरह केशलूर से नेंगानार, दरभा, झीरम, तोंगपाल और पाकेला से सुकमा सड़क सुकमा दोनापाल पेन्टा के मध्य चौड़ीकरण और मजबूती का काम पूर्ण हो चुका है।