Saturday , May 28 2022
Home / MainSlide / रमन ने अवैध शराब पर पाबंदी लगाने दी कमांडो समूह बनाने की सलाह

रमन ने अवैध शराब पर पाबंदी लगाने दी कमांडो समूह बनाने की सलाह

कोरबा 15 मार्च।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने महिलाओं को अवैध शराब पर पाबंदी लगाने के लिए संगठित होने और समाज में इसके दुष्प्रभावों की जानकारी देने के लिए महिला कमांडो समूह गठित करने की सलाह दी है।

डा.सिंह ने प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के अंतर्गत आज जिले के भैंसामुड़ा (विकासखण्ड करतला) गांव में आयोजित समाधान शिविर में ग्रामीणों से जिले में अवैध शराब की बिक्री के बारे में जानकारी ले रहे थे, इस दौरान एक महिला ने बताया कि गांव में छुट-पुट अवैध शराब और गांजे की बिक्री की जा रही है। डॉ. सिंह ने आबकारी विभाग के अधिकारियों को इस पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने शिविर में उपस्थित महिलाओं से कहा कि वे महिला कमाण्डो समूहों का गांव-गांव में गठन करें और लोगों को शराब और गांजे के दुष्प्रभावाओं के बारे में जागरूक करें।

उन्होने शिविर में कहा कि कोरबा जिला एक औद्योगिक जिला है, जहां उद्योगो में बड़ी संख्या में असंगठित क्षेत्र काम करते हैं।इन श्रमिकों को श्रम विभाग की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए आगामी मई माह में शिविर आयोजित करके इन श्रमिकों का पंजीयन किया जाए। समाधान शिविर में अधिकारियों ने बताया कि भैंसामुड़ा क्लस्टर के गांवों में लोक सुराज अभियान के प्रथम चरण में 4179 आवेदन ग्रामीणों से प्राप्त हुए थे, जिनमें से 4174 आवेदनों का समुचित निराकरण कर दिया गया है।

मुख्यमंत्री ने शिविर में यह भी जानकारी दी कि सौभाग्य योजना के अंतर्गत जून 2018 तक सभी मजरे-टोलों और पारों का तथा माह सितम्बर 2018 तक प्रत्येक घर में बिजली कनेक्शन दे दिए जाएंगे। उन्होंने कोरबा जिले के ऐतिहासिक स्थल मड़वारानी के निकट 32 करोड़ रूपए की लागत से तालाब निर्माण की जानकारी मिलने पर प्रसन्नता प्रकट की। जिला कलेक्टर ने बताया कि इस तालाब के लिए डीएमएफ से राशि मंजूर की गई है। इस तालाब से आसपास के गांवों की लगभग 50 हजार की आबादी लाभान्वित होंगी।