Monday , August 8 2022
Home / Uncategorized / मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की चारधाम व्यवस्था की समीक्षा, दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने की चारधाम व्यवस्था की समीक्षा, दिए ये निर्देश

Chardham Yatra 2022 : प्रदेश में चारधाम में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए व्यवस्था की निगरानी करने और श्रद्धालुओं की मौत के कारणों की जानकारी लेने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया जाएगा। इस समिति की रिपोर्ट के आधार पर सरकार यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं की होने वाली मौत के कारण को भी जनता के समक्ष रखेगी।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम व्यवस्था की समीक्षा की मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शनिवार को चारधाम व्यवस्था की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने विशेषज्ञ समिति गठित करने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि चारधाम यात्रा में आने वाले श्रद्धालुओं में से अब तक 124 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। यात्रा की व्यवस्था को लेकर कोई नकारात्मक संदेश न जाए यात्रियों के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए प्रभावी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाएं। व्यवस्था की निगरानी के लिए यात्रा से जुड़े विभागों के अधिकारियों की एक विशेषज्ञ समिति गठित की जाए। उन्होंने कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि यात्रा की व्यवस्था को लेकर कोई नकारात्मक संदेश न जाए। यात्रा के दौरान जो भी मृत्यु हो रही हैं उसके वास्तविक कारणों की स्थिति भी जनता के समक्ष रखी जाए। बुजुर्ग स्वास्थ्य परीक्षण के बाद ही यात्रा पर आएं मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि बुजुर्ग स्वास्थ्य परीक्षण के बाद ही यात्रा पर आएं। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को बुजुर्ग एवं अस्वस्थ व्यक्तियों के लिए कारगर स्वास्थ्य परीक्षण व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने पर्यटन, स्वास्थ्य, परिवहन एवं राज्य आपदा मोचन बल के अधिकारियों को आपस में समन्वय सुनिश्चित करते हुए यात्रियों के लिए व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा। विधानसभा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री धामी को दी शुभकामनाएं विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर चंपावत उपचुनाव में रिकार्ड मतों से जीत प्राप्त करने पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बधाई व शुभकामनाएं दी। इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष ने पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए मुख्यमंत्री को पौधा भी भेंट किया|