Sunday , December 5 2021
Home / MainSlide / मुंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने की आत्महत्या

मुंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने की आत्महत्या

मुंगेली 15नवम्बर।छत्तीसगढ़ में मुंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती कांता मार्टिन ने अपने सरकारी आवास पर बीती रात पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली।

पुलिस से मिली जानकारी के अऩुसार आज सुबह जब देर तक जिला एवं सत्र न्यायधीश के बंगले का दरवाजा नहीं खुला तो सीजीएम ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस अधीक्षक अरविंद कुजुर स्वयं मौके पर पहुंचे,और पुलिस दल ने बंगले के दरवाजा को खोलने की।इस दौरान पुलिस ने आवास की खिड़की खोला तो श्रीमती मार्टिन पंखे से लटकी पाई गई।श्रीमती मार्टिन इस बंगले में अकेले रहती थी उनके पति की करीब डेढ़ साल पहले मृत्यु हो गई थी।

पुलिस को न्यायधीश के आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नही चल सका है।पुलिस ने मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं।

ज्ञातव्य हैं कि जिला न्यायधीश ने जिस बंगले में आत्महत्या की है उसमें इससे पूर्व भी मुंगेली की अतिरिक्त जिला न्यायधीश श्रीमती अमृता संजय लाल ने भी जहर खाकर खुदकुशी की थी।श्रीमती लाल की आत्महत्या के बाद काफी दिनों तक इस बंगले में कोई रहने नही आया।बाद में श्रीमती कांता मार्टिन इसमें रहने आई थी।