Sunday , January 23 2022
Home / MainSlide / भारत की अर्थव्यवस्था को 50 खरब डॉलर का बनाना बिल्कु्ल संभव- मोदी

भारत की अर्थव्यवस्था को 50 खरब डॉलर का बनाना बिल्कु्ल संभव- मोदी

वाराणसी 06 जुलाई।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तमाम आशंकाओं को खारिज करते हुए कहा है कि भारत की अर्थव्‍यवस्‍था को 50 खरब डॉलर का बनाना बिल्‍कुल संभव है।

श्री मोदी ने आज यहां भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि..अब हम किसान को पोषक से आगे निर्यातक यानी एक्सपोर्टर के रूप में देख रहे हैं। फाई ट्रीलियन डॉलर इकॉनोमी के लक्ष्य को देश कैसे प्राप्त कर सकता है। इसकी एक दिशा बजट में हमनें दिखाई है और उससे जुड़े फैसलों का ऐलान किया गया है। और देश को ये भी विश्वास दिया गया है कि पांच साल एक सरकार एक कन्टीन्यूटी में है। ये भी विश्वास दिया है कि आने वाले दस साल के विजन के साथ मैदान में उतरे हैं..।

उन्होने कहा कि भारतीयों की क्षमता पर संदेह करने वाले कुछ लोगों ने कहा था कि यह लक्ष्‍य हासिल करना बेहद मुश्किल है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसा सोचने वाले लोग हमेशा से निराशावादी रहे हैं। श्री मोदी ने 2019-20 के केन्‍द्रीय बजट और आगामी वर्षों में भारत के विकास पथ के बारे में अपने विचार साझा किये। संघीय बजट के प्रावधानों का जिक्र करते हुए उन्‍होंने कहा कि हम नया भारत बनाने के बिल्‍कुल करीब हैं।

श्री मोदी ने इसे पूर्व यहां भारतीय जनता पार्टी के राष्‍ट्रव्‍यापी सदस्‍यता अभियान की शुरूआत करते हुए अपने संसदीय क्षेत्र के बड़ा लालपुर गांव स्थित दीनदयाल उपाध्‍याय व्‍यापार सुविधा केन्‍द्र में आज एक कार्यक्रम में पांच लोगों को पार्टी की सदस्‍यता प्रदान की।

उत्‍तरप्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, भाजपा के कार्यकारी अध्‍यक्ष जे पी नड्डा और उत्‍तरप्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष महेन्‍द्र नाथ पांडेय ने भी कार्यक्रम में अपने विचार व्‍यक्‍त किये।प्रधानमंत्री ने वाराणसी में वृक्षारोपण अभियान का भी शुभारंभ किया।