Wednesday , May 18 2022
Home / MainSlide / भारत और चीन के लोग एक-दूसरे की भाषा सीखे- सुषमा

भारत और चीन के लोग एक-दूसरे की भाषा सीखे- सुषमा

बीजिंग 23 अप्रैल।विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भारत और चीन के लोगों को एक-दूसरे की भाषा सीखने को कहा है ताकि लोग एक दूसरे की बातें समझ सकें।

श्रीमती स्वराज ने आज यहां भारतीय दूतावास द्वारा आयोजित भारत-चीन मैत्री में हिन्दी का योगदान कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिस तरह से भारत और चीन के संबंध प्रगाढ़ हो रहे हैं, व्यापार बढ़ रहा है,अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर हम काम कर रहे हैं इकट्ठे, उसमें यह और भी ज्यादा जरूरी हो गया है कि आप हिन्दी सीखें और हिन्दुस्तानी चीनी सीखें, ताकि जब वो यहां आयें तो उन्हें भाषांतरकार की जरूरत न पड़े, जब आप वहां जायें तो आपको भाषांतरकार की जरूरत न पड़े।

चीन के विदेश मंत्री वांग यी के साथ कल हुई बैठक के दौरान श्रीमती स्वराज ने उन्हें बताया कि किसी भी विदेश मंत्री की ताकत उसके देश के लोग होते हैं और जब दो देशों के लोग एक-दूसरे से प्रेम करते हैं तो सरकारों की ताकत भी बढ़ जाती है।