Monday , August 8 2022
Home / MainSlide / भाजपा को विपक्षी दलों को कुचलने की नीति का खामियाजा भुगतना पड़ेगा – भूपेश

भाजपा को विपक्षी दलों को कुचलने की नीति का खामियाजा भुगतना पड़ेगा – भूपेश

रायपुर 25 जून।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा हैं कि भारतीय जनता पार्टी को विपक्षी दलों को रौदने और कुचलने का खामियाजा देर सबेर उन्हे भी भुगतना पड़ेगा।

श्री बघेल ने प्रदेश व्यापी भेंट मुलाकात कार्यक्रम के लिए रवाना होने से पूर्व आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा विपक्षी दलों को बर्दास्त नही कर पा रही हैं और असहमति का वह सम्मान करना नही जानते।वह विपक्षीदलों को रौद देने और कुचलकर समाप्त कर देने की नीति पर काम कर रही हैं।लोकतांत्रिक देश में इसे स्वीकार नही किया जा सकता हैं।उन्हे देर सबेर इसका खामियाजा जरूर भुगतना पड़ेगा।

उन्होने महाराष्ट्र के घटनाक्रम का उल्लेख करते हुए कहा कि भाजपा तीन दलों के वहां मजबूत गठबंधन को लेकर डरी हुई है और उसे भय है कि इस गठबंधन के रहते उसको महाराष्ट्र में 2024 में करारा नुकसान हो सकता हैं।उन्होने कहा कि जो विधायक विद्रोह किए है वह पहले गुजरात जाते है फिर भाजपा शासित असम में डेरा डालने पहुंच गए है।अगर उन्हे विद्रोह करना ही था तो महाराष्ट्र में रहकर कार्यकर्ताओं और जनता के बीच में रहकर करना था तथा उन्हे अपने निर्णय से सन्तुष्ट करना था।उन्होने कहा कि महाराष्ट्र की जनता सब देख रही हैं और भाजपा एवं विद्रोहियों दोनो को सबक सिखायेंगी।

श्री बघेल ने सेना में लागू की गई अग्निपथ योजना को लेकर मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वन रैंक वन पेंशन का वादा कर सत्ता में आई सरकार ने इस योजना के जरिए नो रैंक नो पेंशन को लागू कर दिया हैं।उन्होने कहा कि सेना में बहादुरी के लिए अभी तक मेडल मिलते है अब चार वर्ष बाद रिटायर्ड होने के बाद युवा शादी के कार्ड पर पूर्व अग्निवीर छपवायेंगे।उन्होने कहा कि देश के तमाम सेवानिवृत सेना के ख्यातिनाम मेडल प्राप्त अधिकारियों ने इस योजना की आलोचना की है और इसे सेना के साथ मजाक करार दिया हैं।