Sunday , November 28 2021
Home / MainSlide / बेटियों द्वारा महुआ और लाई के लड्डू भेंट किए जाने से भावुक हुए रमन

बेटियों द्वारा महुआ और लाई के लड्डू भेंट किए जाने से भावुक हुए रमन

जगदलपुर 12दिसम्बर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज उस वक्त बेहद भावुक हो गए, जब प्रदेश व्यापी बिजली तिहार के शुभारंभ के अवसर पर आदिवासी बहुल बस्तर जिले के ग्राम भिरलिंगा में आयोजित आम सभा में ग्राम नागलसर के मिडिल स्कूल 14 स्कूली बालिकाओं ने महुआ और लाई के स्वादिष्ट लड्डू भेंटकर उनका आत्मीय स्वागत किया।

यह अवसर था क्षेत्र में ग्राम महुपाल बरई (परचनपाल) में मुख्यमंत्री के हाथों 633 करोड़ रूपए के 400/220 के.वी.क्षमता वाले विद्युत उपकेन्द्र और पारेषण लाइन के लोकार्पण का।डॉ. सिंह लोकार्पण के बाद ग्राम भिरलिंगा पहुंचे, जहां समारोह में मंच पर इन बेटियों से उनकी मुलाकात हुई।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर अपनी सरकार के 14 वर्षों की स्वर्णिम यात्रा को यादगार बनाने के लिए आज के कार्यक्रम में क्षेत्र के 14 गांवों को उर्जित ग्राम घोषित किया, जहां प्रधानमंत्री सहज बिजली योजना (सौभाग्य) के तहत इन बेटियों के घरों में भी बिजली का कनेक्शन पहुंच गया है। इसके लिए इन सभी बालिकाओं ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया।

एक छात्रा बुदाई ने मुख्यमंत्री को बस्तर अंचल की बहुप्रचलित सम्पर्क बोली हल्बी में अपने हाथों से लिखा धन्यवाद पत्र भेंट किया।इतना ही नहीं, बल्कि इस बालिका ने मंच पर माइक से मुख्यमंत्री के नाम अपने हाथों से लिखी यह चिट्ठी भी पढ़कर सुनाई।बुदाई ने अपनी चिट्ठी पढ़ते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सौभाग्य योजना (सहज बिजली-हर घर योजना) और राज्य सरकार के बिजली तिहार से न केवल हमारे गांव और हमारे घर रौशन हुए हैं, बल्कि जीवन में भी उजियारा हुआ है। इसके पहले तक हमें लालटेन अथवा चिमनी की रौशनी में पढ़ाई करने में काफी परेशानी होती थी, लेकिन प्रधानमंत्री की सौभाग्य योजना के तहत हमारे घर में बिजली आ गई है और घर में उजियारा छा गया है। बिजली की रौशनी में पढ़ाई करना अच्छा लगता है।