Monday , December 6 2021
Home / MainSlide / त्यौहारों पर खरीददारी करते समय स्थानीय उत्पादों को दें प्राथमिकता- मोदी

त्यौहारों पर खरीददारी करते समय स्थानीय उत्पादों को दें प्राथमिकता- मोदी

नई दिल्ली 25 अक्टूबर।प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने लोगों से अपील की है कि वे त्‍यौहारों के इस मौसम में बाजार से खरीददारी करते समय स्‍थानीय उत्‍पादों को प्राथमिकता दें।

श्री मोदी ने आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में अपने सम्‍बोधन में सभी लोगों से कहा कि वे वोकल फॉर लोकल के संकल्‍प को ध्‍यान में रखें।उन्होने कहा कि..जब हम त्योहार की बात करते हैं, तैयारी करते हैं, तो, सबसे पहले मन में यही आता है, कि बाजार कब जाना है? क्या-क्या खरीदारी करनी है? ख़ासकर, बच्चों में तो इसका विशेष उत्साह रहता है।लेकिन इस बार जब आप खरीदारी करने जायें तो ‘वोकल फॉर लोकल’ का अपना संकल्प अवश्य याद रखें। बाजार से सामान खरीदते समय, हमें स्थानीय उत्पादों को प्राथमिकता देनी है।

उन्होने कहा कि दुनियाभर में भारतीय उत्‍पादों को बहुत ज्‍यादा पसन्‍द किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि ऐसे अनेक स्‍थानीय उत्‍पाद हैं जिनमें विश्‍व स्‍तर का बनने की क्षमता है। प्रधानमंत्री ने इस बारे में खादी का उदाहरण दिया।खादी लम्बे समय तक सादगी की पहचान रही है, लेकिन, हमारी खादी आज, इको फ्रेंडली फैब्रिक के रूप में जानी जा रही है।उन्होने कहा कि कोरोना संकट के दौरान खादी के बने मास्‍क काफी लो‍कप्रिय हुए हैं। देश में कई स्‍थानों पर स्‍व सहायता समूहों ने खादी के मास्‍क बनाए हैं।

श्री मोदी ने कहा कि पेंसिल बनाने के लिए देश में लकड़ी आयात की जाती थी लेकिन अब पुलवामा पेंसिल बनाने के क्षेत्र में देश को आत्‍मनिर्भर बना रहा है। घाटी से चिनार की लकड़ी पेंसिल बनाने के काम में इस्‍तेमाल की जा रही है। पुलवामा में उक्‍खू गांव को पेंसिल विलेज के रूप में जाना जाता है।उन्होने लोगों से उन बहादुर सैनिकों को याद रखने को भी कहा, जो सीमाओं पर देश की रक्षा कर रहे हैं।

श्री मोदी ने त्‍यौहारों के दौरान सभी से मास्‍क पहनने, साबुन से हाथ धोने और दो गज की दूरी बनाये रखने का सुझाव दोहराया। श्री मोदी ने लोगों को विजयदशमी पर्व की शुभकामनाएं दीं।उन्होने कहा कि त्‍यौहारों के इस दौर में हमें लॉकडाउन की अवधि को याद रखना चाहिए जब लोगों को अपने आसपास के उन लोगों के महत्‍व का पता चला, जो हमारे दैनिक जीवन में हमारी बहुत सहायता करते हैं।