Friday , May 20 2022
Home / MainSlide / ’छत्तीसगढ़ राज्य केश शिल्पी कल्याण बोर्ड’ का होगा गठन

’छत्तीसगढ़ राज्य केश शिल्पी कल्याण बोर्ड’ का होगा गठन

रायपुर 31 जुलाई।छत्तीसगढ़ में नाई समाज के परम्परागत केश शिल्प के संरक्षण और उनके व्यवसाय के संवर्धन के लिए समाज कल्याण विभाग के अन्तर्गत ’छत्तीसगढ़ राज्य केश शिल्पी कल्याण बोर्ड’ का गठन किया जाएगा।

डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आज यहां आयोजित मंत्रिपरिषद की बैठक में आज की जीवन शैली में केश शिल्प के विशेष महत्व को देखते हुए बोर्ड के गठन का निर्णय लिया गया है। बोर्ड में एक अध्यक्ष और केश शिल्प के क्षेत्र में कार्यरत सामाजिक समुदाय से दो सदस्य होंगे, जिनमें कम से कम एक महिला होगी।

वित्त, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, समाज कल्याण, श्रम, नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग, आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास विभाग, कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा, रोजगार तथा विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभागों के प्रतिनिधि इसमें शामिल रहेंगे, जो उप सचिव स्तर से कम के नहीं होंगे।

समाज कल्याण विभाग के अपर संचालक इस बोर्ड के सदस्य सचिव होंगे। बोर्ड द्वारा परम्परागत केश शिल्प में संलग्न समुदाय का समग्र विकास सुनिश्चित करने के लिए सुझाव दिए जाएंगे। केश शिल्प में संलग्न कामगारों के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक उत्थान के लिए नीति तैयार कर उसकी अनुशंसा शासन को दी जाएगी।

मंत्रिपरिषद ने इसके साथ ही संविदा पर नियोजित महिला कर्मचारियों को भी शासकीय महिला कर्मचारियों की तरह 180 दिवस के प्रसूति अवकाश (संवैतनिक) की पात्रता देने का निर्णय लिया। यह अवकाश दो जीवित संतानों के उपरांत हुए प्रसव पर लागू नहीं होगा।इसके साथ ही यह अवकाश 180 दिवस अथवा संविदा नियुक्ति की अवधि समाप्ति तक, जो भी पहले हो, के लिए होगी।