Saturday , January 22 2022
Home / MainSlide / छत्तीसगढ़ में हरेली पर 988 गौठानों का होगा लोकार्पण

छत्तीसगढ़ में हरेली पर 988 गौठानों का होगा लोकार्पण

रायपुर 31जुलाई।छत्तीसगढ़ में हरेली के मौके पर कल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल.मंत्री एवं अन्य जनप्रतिनिधि विभिन्न जिलों में 988 गौठानों का लोकार्पण करेंगे।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा राज्य में 1947 गौठानों पर काम शुरू किया गया है। इनमें से 1112 गौठानों का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है।प्रदेश में पशु धन के संरक्षण और संवर्धन के लिए गौठानों को ‘डे-केयर सेंटर’ के रूप में विकसित किया जा रहा है।यहां छाया, पेयजल और चारे के साथ ही पशुओं के टीकाकरण एवं नस्ल सुधार की भी व्यवस्था की गई है।

सभी गौठानों में नलकूप खनन और सोलर पंप लगाकर पर्याप्त पानी का इंतजाम किया गया है। पशुओं को पौष्टिक और हरा चारा खिलाने के लिए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा गांवों में चारागाह भी तैयार किए जा रहे हैं। सुव्यवस्थित गौठान से अब पशुओं द्वारा होने वाले फसल के नुकसान से किसानों को राहत मिलेगी। साथ ही मवेशियों की बेहतर देखभाल से दूध का उत्पादन बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।

गौठान में पशु संवर्धन के साथ ही जैविक खेती को बढ़ावा देने गोबर व चारा अपशिष्ट से कंपोस्ट खाद बनाने का काम भी किया जा रहा है। इसके लिए गौठान में ही वर्मी कंपोस्ट बेड के जरिए खाद बनाया जा रहा है। स्वसहायता समूहों के माध्यम से इसकी बिक्री कर लोगों को जैविक खाद उपलब्ध कराया जाएगा। इससे स्थानीय स्तर पर रोजगार के मौके बढ़ने के साथ ही लोग जैविक खेती के लिए प्रेरित होंगे। हर गौठान से कम से कम 10 परिवारों को स्थायी रोजगार उपलब्ध कराने का सरकार का लक्ष्य है। पर्यावरण सुधार और पशुओं को रूकने के लिए बेहतर वातावरण देने सभी गौठानों में पर्याप्त संख्या में पौधे भी लगाए जा रहे हैं।