Thursday , December 9 2021
Home / छत्तीसगढ़ / छत्तीसगढ़ में सहकारी समितियों में जल्द शुरू होगी माइक्रो एटीएम सुविधा – रमन

छत्तीसगढ़ में सहकारी समितियों में जल्द शुरू होगी माइक्रो एटीएम सुविधा – रमन

रायपुर 20 सितम्बर।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्य की सभी 1333 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों में माइक्रो एटीएम की सुविधा जल्द शुरू करवाने की घोषणा की है।

डा.सिंह ने आज शाम यहां अपने निवास परिसर में बिलासपुर संभाग के पांच जिलोंबिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, जांजगीर-चांपा और मुंगेली की सहकारी समितियों के 537 प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए यह घोषणा की।उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) द्वारा इसकी तैयारी युद्धस्तर पर की जा रही है।पहले चरण में 517 समितियों में माईक्रो एटीएम की स्थापना की जाएगी।

उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य होगा, जहां प्राथमिक सहकारी समितियों में माईक्रो एटीएम की स्थापना की जाएगी। इस अवसर पर राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स) के अध्यक्ष अशोक बजाज, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी विपणन संघ (मार्कफेड) के अध्यक्ष राधाकृष्ण गुप्ता और प्रदेश बुनकर संघ के पूर्व अध्यक्ष संतोष देवांगन भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दो अक्टूबर से 15 अक्टूबर के किसानों को वर्ष 2016 में समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान के बोनस के रूप में 2100 करोड़ रूपए की राशि कर वितरण किया जाएगा। बोनस वितरण में भी सहकारी समितियों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। छत्तीसगढ़ में प्राथमिक सहकारी समितियां बड़ी जिम्मेदारी के साथ काम कर रही हैं। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के संचालन और किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का काम इन समितियों के माध्यम से किया जा रहा है। पिछले वर्ष लगभग 11 हजार करोड़ रूपए की लागत से किसानों से समर्थन मूल्य पर लगभग 70 लाख मीटरिक टन धान की खरीदी की गई है।

उन्होने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को और अधिक मजबूत बनाने में सहकारी संस्थाओं के प्रतिनिधियों अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं। सहकारिता के प्रतिनिधि गांवों में ग्रामीणों के छोटे-छोटे समूह बनाकर छोटे-छोटे व्यवसायों के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा बैंक के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराने में उनकी सहायता कर सकते हैं। इन प्रयासों से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को और भी अधिक मजबूती प्रदान की जा सकती है।