Saturday , November 27 2021
Home / MainSlide / छत्तीसगढ़ में कृषि शिक्षा,अनुसंधान एवं प्रसार का एक मजबूत नेटवर्क तैयार- भूपेश

छत्तीसगढ़ में कृषि शिक्षा,अनुसंधान एवं प्रसार का एक मजबूत नेटवर्क तैयार- भूपेश

रायपुर, 20 जनवरी।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा हैं कि राज्य में पिछले दो वर्षों में कृषि शिक्षा, अनुसंधान एवं प्रसार का एक मजबूत नेटवर्क तैयार हो गया है।राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के आर्थिक विकास के लिए कृषि और उससे जुड़ी गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है।

श्री बघेल आज यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में खाद्य प्रौद्योगिकी महाविद्यालय रायपुर सहित चार नये उद्यानिकी महाविद्यालयों साजा(बेमेतरा), अर्जुन्दा (बालोद), धमतरी, जशपुर और लोरमी कृषि महाविद्यालय (मुंगेली) और नवीन कृषि विज्ञान केन्द्र कोण्डागांव का शुभारंभ करने के बाद आयोजित समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होने कहा कि राज्य स्थापना के समय छत्तीसगढ़ में इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय सहित केवल एक कृषि महाविद्यालय था। आज कृषि, उद्यानिकी के 46 महाविद्यालय, 08 अनुसंधान केंद्र एवं 27 कृषि विज्ञान केंद्र इस विश्वविद्यालय के अंतर्गत काम कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ के उत्तर में बलरामपुर से लेकर दक्षिण में सुकमा तक कृषि शिक्षा, अनुसंधान एवं प्रसार का एक मजबूत नेटवर्क तैयार हो गया है।

श्री बघेल ने कहा कि कृषि महाविद्यालयों एवं कृषि विज्ञान केंद्रों को शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन में शामिल किया गया है। इसका लाभ किसानों को उन्नत तकनीक से खेती करने में और कृषि से संबद्ध आर्थिक गतिविधियों को विकसित करने में मिलेगा जिससे हमारे किसानों और ग्रामीणों का जीवन स्तर ऊंचा उठेगा। उनकी आर्थिक-समाजिक स्थिति और सुदृढ़ होगी।