Monday , August 8 2022
Home / देश-विदेश / कर्नाटक में भारी बारिश के चलते जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त, लैंडस्लाइड में तीन लोगों की मौत…

कर्नाटक में भारी बारिश के चलते जनजीवन हुआ अस्त-व्यस्त, लैंडस्लाइड में तीन लोगों की मौत…

कर्नाटक में भारी बारिश के चलते जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। राज्य में मानसूनी बारिश का असर ज्यादा दिख रहा है, यहां बीते तीन दिनों से कई जिलों में लगातार बारिश हो रही है। उडुपी जिले में भारी बारिश के बीच भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रेड अलर्ट भी जारी कर दिया है। वहीं इसके चलते लैंडस्लाडिंग की घटना भी सामने आई है।
लैंडस्लाइड में तीन की मौत दक्षिण कन्नड़ जिले के बंतवाल के पंजीकल गांव में हुए भूस्खलन में आज एक और व्यक्ति की मौत हो गई है।दक्षिण कन्नड़ के पुलिस अधीक्षक ऋषिकेश सोनवणे के अनुसार मरने वालों की संख्या बढ़कर 3 हो गई है और एक का इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि तीन लोगों को बचा लिया गया है, जिनमें से एक की हालत गंभीर है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आंगनवाड़ी स्कूलों और कालेजों में छुट्टी भारी बारिश के चलते उडुपी जिले के उपायुक्त कूर्म राव एम ने गुरुवार को आंगनवाड़ी स्कूलों और कालेजों में छुट्टी की घोषणा कर दी है। वहीं आईएमडी ने पर्यटकों और मछुआरों को समुद्र तटों और समुद्री क्षेत्रों में न जाने की सलाह दी है। कर्नाटक के कोडगु, उत्तर कन्नड़, अलूर, अरकलागुड और सकलेशपुरा जिलों में भी आंगनवाड़ी स्कूलों और कालेजों के लिए छुट्टी की घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री ने दिए निचले इलाकों से लोगों को निकालने के निर्देश कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने बताया कि आइएमडी ने कोडागु, दक्षिण कन्नड़, उडुपी और उत्तर कन्नड़ में भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। सीएम ने बताया कि उपायुक्तों से बात करने के बाद सभी आवश्यक सावधानियां बरती गई हैं। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ कोडागु, कारवार और उडुपी में तैनात कर दी गई है। वहीं सीएम ने समुद्र के कटाव को रोकने, सामान्य भूस्खलन की घटनाओं वाले निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालने और सड़कों को साफ रखने के निर्देश दिए हैं।