Sunday , December 5 2021
Home / राजनीति / कर्नाटक के रिजॉर्ट में छापेमारी पर जेटली का इंकार

कर्नाटक के रिजॉर्ट में छापेमारी पर जेटली का इंकार

नई दिल्ली 02 अगस्त।वित्तमंत्री अरूण जेटली ने कांग्रेस के आरोप का खंडन किया है कि आयकर विभाग के अधिकारी कर्नाटक के रिजॉर्ट में छापेमारी की।

श्री जेटली ने लोकसभा में आज दिए बयान में कहा कि उन्होंने स्वयं आयकर विभाग से पुष्टि की है कि कांग्रेस के विधायकों पर कोई छापेमारी की कार्रवाई नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि आयकर विभाग के अधिकारी केवल कर्नाटक के ऊर्जामंत्री का बयान दर्ज करने के लिए रिजॉर्ट में गए थे। श्री जेटली ने स्पष्ट किया कि छापे की इस कार्रवाई का गुजरात में राज्यसभा चुनाव से कोई लेना देना नहीं है। यह वित्तीय अनियमितता से जुड़ा मामला है। श्री जेटली ने कहा कि देशभर में 38 स्थानों पर छापे की कार्रवाई चल रही है।

इससे पहले, प्रश्नकाल में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार पर आरोप लगाया कि वह राज्यसभा चुनाव से पहले डराने की कार्रवाई कर रही है।उन्होने कहा कि लोकतंत्र की हत्या नहीं होना चाहिए। अगर प्राइम मिनिस्टर जी एशोयरेंस दे कि ऐसा पालिटिकल पार्टी के ऊपर वेंडांता विछंटिंग   अगर करते गए तो कोई भी ठीक नहीं रहेगा। सरकार इसके बारे में कोई रिस्पांस नहीं दे रही है। इसलिए उनके एटीटयूट को हम खंडन करके हम चले जाते है।

कांग्रेस ने इसी मुद्दे पर आज सदन से वॉकआउट किया। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री को सदन को आश्वासन देना चाहिए कि विपक्षी नेताओं के खिलाफ बदले की कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।

संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने फिर दोहराया कि ये छापे भ्रष्टाचार के खिलाफ है और पूरी छानबीन के बाद डाले जा रहे हैं।बाद में कांग्रेस सदस्य नारेबाजी करते हुए सदन से बाहर चले गए।