Tuesday , November 30 2021
Home / MainSlide / ओखी तूफान के कारण उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात में एलर्ट

ओखी तूफान के कारण उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात में एलर्ट

मुम्बई 05 दिसम्बर।ओखी तूफान के कारण उत्तरी महाराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात के समुद्र में कल तक तेज हलचल रहेगी।

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अनुसार सौराष्ट्र और दक्षिणी गुजरात क्षेत्र में आज ज़्यादातर स्थानों पर हल्की से सामान्य बारिश हो सकती है तथा कहीं-कहीं बहुत भारी बारिश होने की आशंका है। मौसम विभाग ने बहुत गंभीर तूफान की चेतावनी जारी की है और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी है।

महाराष्ट्र सरकार ने ओखी तूफान को देखते हुए आज मुंबई और उसके आस-पास के जिलों के सभी स्कूल और कॉलेज बंद कर दिए हैं।मौसम विभाग के अनुमान को देखते हुए सावधानी के तौर पर यह कदम उठाया गया है। उत्तरी कोंकण और उत्तरी मध्य महाराष्ट्र में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

चक्रवात ओखी के कारण महाराष्ट्र में मौसम खराब होने की सम्भावना जताई गयी है।इस चेतावनी के कारण राज्य सरकार ने शहर, आसपास के जिले और तटीय क्षेत्रों के स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने की घोषणा की है।राज्य के पश्चिमी तटवर्ती इलाकों में चक्रवात की चेतावनी के मद्देनजर पश्चिम रेलवे सभी आवश्यक सावधानियां और उपयुक्त व्यवस्थाओं के साथ पूरी तरह तैयार है।

अंडमान और निकोबार द्वीप में भी अगले दो दिन तक अधिकांश स्थानों पर मध्यम से भारी वर्षा का अनुमान है।मछुआरों को कल तक समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है।

गुजरात में मौसम कार्यालय ने कहा है कि भीषण चक्रवाती तूफान ओखी गुजरात तट से टकराते समय काफी कमजोर पड़ जाएगा। अहमदाबाद मौसम कार्यालय के निदेशक जयंत सरकार ने कहा कि चक्रवात ओखी अभी काफी तेज है लेकिन गुजरात तट को पार करने तक यह कमजोर पड़ेगा। हालांकि समुद्र की स्थिति काफी गंभीर रहेगी और मछुआरों को समुद्र में न जाने की सख्त हिदायत दी गई है।

केंद्र ने प्रभावित क्षेत्रों में बचाव और राहत कार्यों के लिए तटरक्षक बल के दस पोत, छह विमान, चार हेलीकॉप्टर और नौसेना के दस पोत लगाए हैं।