Wednesday , December 1 2021
Home / छत्तीसगढ़ / एनआईटी में एडमिशन लेने बच्चों को प्रशासन ने किया रवाना

एनआईटी में एडमिशन लेने बच्चों को प्रशासन ने किया रवाना

दंतेवाड़ा 01अगस्त।छत्तीसगढ़ के घुर नक्सल इलाके बस्तर के छू लो आसमान के 10 बच्चों को एनआईटी में प्रवेश लेने की आनन फानन में मिली सूचना के बाद की मुश्किल को राज्य सरकार ने उऩ्हे विमान से भेजने का निर्णय कर दूर कर दिया,जिससे निराश बच्चों में खुशी की लहर दौड़ गई।

    आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि 10 बच्चों के कल शाम एनआईटी में प्रवेश के लिए चयन होने की सूचना जिला प्रशासन को मिली।इसके लिए काउंसिलिंग 03 अगस्त को होने की सूचना दी गई। इतनी जल्दी विद्यार्थियों को काउंसिलिंग की सूचना पर भेज पाना कठिन था।

   कलेक्टर सौरभ कुमार ने तकनीकी शिक्षा के अधिकारियों से बातचीत की लेकिन उन्होंने कहा कि काउंसिलिंग की तिथि को बढ़ा पाना संभव नहीं है।इसके बाद निर्णय लिया गया कि विद्यार्थियों को फ्लाइट से भेजा जाएगा क्योंकि इतने महत्वपूर्ण अवसर से विद्यार्थियों को वंचित होना उनके करियर के लिए काफी बुरा होगा। इसके साथ ही काउंसिलिंग के मानदंडों के अनुरूप मेडिकल प्रमाणपत्र भी बनाना था। देर रात तक इन छात्रों का मेडिकल प्रमाणपत्र बनाया गया। सबसे पहले अगरतला वाले छात्रों का मेडिकल बनाया गया और इन्हें देर रात एक जिला स्तरीय अधिकारी के साथ भेजा गया। फिर सुबह के समय एनआईटी जालंधर के छात्र भेजे गए।

  जिला पंचायत सीईओ डॉ गौरव सिंह ने कहा कि एक साथ 10 विद्यार्थियों के चयन की सूचना मिलना बहुत सुखद रहा। आप लोगों को एडमिशन कराने जिला स्तरीय अधिकारी साथ जाएंगे से लगातार संपर्क में रहेंगे। फीस एवं पढ़ाई के अन्य खर्च के लिये उजर 100 योजना का लाभ दिए जाएंगे।

  छू लो आसमान कार्ली कैंपस जहां लड़कियां पढ़ाई कर रही हैं वहां से भी अच्छी खबर आई है। कोंटा से आई प्रिया बघेल का चयन एनआईटी सिक्किम के लिए हुआ है। फरसपाल का देवराज एनआईटी जालंधर में पढ़ाई करेगा। देवराज ने बताया कि हम लोग नतीजों को लेकर आशान्वित थे लेकिन इस बात को लेकर थोड़े आशंकित थे कि अब अलग अलग एनआईटी में पढ़ना होगा, इससे ग्रुप स्टडी प्रभावित होगी जिसके कारण हमारे शानदार रिजल्ट आये। नतीजे आये और हम छह दोस्तों का कॉल एनआईटी जालंधर के लिए आया, अब हम फिर से ग्रुप स्टडी करेंगे और अपने जिले का नाम रौशन करेंगे।