Thursday , December 2 2021
Home / MainSlide / उत्तर भारत के राज्यों में कड़ाके की सर्दी

उत्तर भारत के राज्यों में कड़ाके की सर्दी

नई दिल्ली 01 जनवरी।उत्तर भारत के पर्वतीय राज्यों में कड़ाके की सर्दी पड़ रही है।मैदानी इलाकों में घने कोहरे के कारण रेल, सड़क और हवाई यातायात पर असर पड़ा है।हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में सवेरे दृश्यता का स्तर काफी कम रहा।

दिल्ली में घने कोहरे के कारण इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से विमानों की आवाजाही अस्थायी रूप से रोक दी गई।हवाई अड्डे पर दृष्टता का स्तर पचास मीटर से भी कम रह गया था।उत्तर रेलवे के अनुसार 56 रेलगाड़ियां देरी से चल रही हैं। 15 रेलगाड़ियां रद्द कर दी गई हैं और 20 के समय में परिवर्तन किया गया है।इस कारण कई रेलवे स्टेशनों पर सैकड़ों यात्री फंसे हुए हैं।

जम्मू कश्मीर में श्रीनगर में नए वर्ष की शुरुआत कड़ाके की सर्दी में हुई। कल रात शहर में इस मौसम की जमा देने वाली ठंड रही और न्यूनतम तापमान शून्य से चार दशमलव चार डिग्री सेल्सियस नीचे रिकार्ड किया गया।कल रात लेह राज्य का सबसे ठंडा क्षेत्र रहा।शिमला और आसपास के क्षेत्रों में बर्फीली हवाएं चल रही हैं।

उत्तर प्रदेश में अधिकांश स्थानों पर घना कोहरा छाया रहा। वाराणसी, इलाहाबाद, कानपुर, झांसी और आगरा में तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है।बिहार में भी सर्दी और घने कोहरे से सामान्य जन-जीवन अस्त व्यस्त है।राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में उत्तर-पश्चिमी हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री की गिरावट दर्ज की गई है।फतेहपुर शेखावटी में पारा गिरकर शून्य दशमलव पांच डिग्री तक आ गया। माउंट आबू में तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

पंजाब और हरियाणा में भी अधिकांश स्थानों पर शीतलहर का कहर है। पंजाब के आदमपुर में तापमान 2 दशमलव 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।