Wednesday , May 18 2022
Home / MainSlide / आयरलैंड में भी महिलाओं के गर्भपात कराने का रास्ता होगा साफ

आयरलैंड में भी महिलाओं के गर्भपात कराने का रास्ता होगा साफ

डबलिन 27 मई।आयरलैंड में गर्भपात पर प्रतिबंध के प्रस्ताव के विरोध में हुए जनमत संग्रह में दो तिहाई लोगों ने मतदान किया है। इसके विरोध में 66 प्रतिशत और पक्ष में 33 प्रतिशत लोग थे।

आयरलैंड में इस समय गर्भपात की अनुमति सिर्फ माँ और शिशु की जान को खतरा होने पर ही है। जनमत संग्रह के परिणाम से आयरलैंड की संसद कानून में संशोधन कर सकेगी।

भारतीय दंत चिकित्सक सविता हालापनवर के गर्भपात के प्रकरण ने इस पूरी बहस में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उनकी 2012 में गालवे के एक अस्पताल में गर्भपात की अनुमति न मिलने के कारण मौत हो गई थी। जुलाई 2013 में आयरलैंड की संसद ने चिकित्सीय आपातकालीन स्थिति और आत्महत्या के खतरे की स्थिति में गर्भपात की अनुमति के कानून के लिए मत दिया था।

इस परिणाम पर प्रतिक्रिया देते हुए उदारीकरण के पक्षधर भारतीय मूल के प्रधानमंत्री लियो वाराडकर ने इसे आयरलैंड के लिए एक ऐतिहासिक दिन बताया। श्री वाराडकर ने कहा कि परिणाम से स्पष्ट है कि ऑयरलैंड के लोग महिलाओं के निर्णय और उनकी इच्छा का सम्मान करते हैं।