Saturday , May 28 2022
Home / MainSlide / आकांक्षी जिलों के विकास में सीआईआई के सहभागी बनना सराहनीय- रमन

आकांक्षी जिलों के विकास में सीआईआई के सहभागी बनना सराहनीय- रमन

रायपुर 27 जून।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने भारतीय उद्योग परिसंघ (सी.आई.आई.) द्वारा राज्य के 10 आकांक्षी जिलों के विकास के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर काम करने के प्रस्ताव का स्वागत किया है।

डा.सिंह ने आज यहां भारतीय उद्योग परिसंघ के सदस्यों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार केंद्र और राज्य की विभिन्न योजनाओं के समन्वय से और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के सी एस आर फंड तथा जिला खनिज न्यास निधि से पिछड़े जिलों के विकास के काम कर रही है। सीआईआई आकांक्षी जिलों में शिक्षा, स्वास्थ्य ,पेयजल, स्वच्छता, बिजली और अधोसंरचना निर्माण के साथ आजीविका के क्षेत्र में अपना योगदान दे सकती है।

उन्होने कहा कि देश के 115 आकांक्षी जिलों में विकास कार्यों के मामले में छत्तीसगढ़ का बीजापुर जिला अग्रणी और मॉडल जिला है।इसी कारण से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीजापुर के दौरे पर आये थे। उन्होंने दंतेवाड़ा सुकमा और बीजापुर की एजुकेशन सिटी के बारे में भी सम्मेलन में जानकारी दी।उन्होंने कहा कि आदिवासी अंचलों के बच्चों की शिक्षा की ऐसी सुविधा प्रदेश के विकसित जिलों में भी नहीं है।

डा.सिंह ने सम्मेलन में लिए गए इस निर्णय का भी स्वागत किया कि पिछड़े जिलों के विकास के लिए काम करने वाली सीआईआई की केंद्रीय कमेटी के सदस्य जाकर दंतेवाड़ा के विकास मॉडल का अध्ययन करना चाहते हैं।उन्होंने समिति के सदस्यों को दंतेवाड़ा के भ्रमण का आमंत्रण भी सम्मेलन में दिया।उन्होंने कहा कि जब अमीर धरती के गरीब लोगों के जीवन में परिवर्तन आता है,तभी सही मायने में विकास होता है।