Thursday , December 9 2021
Home / राजनीति / अन्ना द्रमुक के दोनो गुटो का विलय, पनीरसेल्वम बने उप मुख्यमंत्री

अन्ना द्रमुक के दोनो गुटो का विलय, पनीरसेल्वम बने उप मुख्यमंत्री

चेन्नई 21 अगस्त।तमिलनाडु में लगभग छह माह से अन्ना द्रमुक के दोनो गुटों में चल रहा गतिरोध आज दोनो के विलय के साथ ही समाप्त हो गया।इसके साथ ही पनीरसेल्वम को तुरंत ही मंत्रिमंडल में शामिल करते हुए उन्हे उप मुख्यमंत्री का दायित्व सौंप दिया गया।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी और बागी नेताओं पनीरसेल्वम के नेतृत्व वाले  अन्ना द्रमुक  के दोनों धड़ों का विलय पिछले सप्ताह कुछ गतिरोध पैदा होने के कारण रूक गया था,लेकिन प्रयास जारी रहे और आखिरकार उसे सफलता मिली और विलय़ हो गया।इसके बाद आनन फानन में राज्य़पाल से समय मांगा गया और राज्यपाल ने पनीरसेल्वम को मंत्री पद की शपथ दिला दी।पनीरसेल्वम को उप मुख्यमंत्री बनाते हुए उन्हें वित्त मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय सौंपा गया है।

पनीरसेल्वम गुट ने दिंवगत सुश्री जयललिता की मौत की सीबीआई जांच की मांग की थी लेकिन मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने इसकी न्यायिक जांच करवाने की घोषणा की है।इस गुट ने पार्टी के उप महासचिव टीटीवी दिनाकरण को पार्टी से निकालने की भी मांग की थी पर इन दोनो मामलों पर क्या सहमति हुई इसका फिलहाल भी पता नही चल सका है। इस विलय के बाद पार्टी प्रमुख वीके शशिकला की क्या स्थिति बनेगी यह भी अभी स्पष्ट नही है।

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता की दिसम्बर में मौत होने के बाद पनीरसेल्वम को मुख्यमंत्री बनाया गया था जबकि उनकी दोस्त रही शशिकला ने पार्टी प्रमुख का दायित्व संभाला था।बाद में उन्होने मुख्यमंत्री बनने का प्रयास किया,लेकिन पनीरसेल्वम ने विद्रोह कर दिया।इसी दौरान उन्हें भ्रष्टाचार के मामले में कोर्ट द्वारा चार साल की सजा सुना दी गई जेल जाने से पहले उन्होंने नए मुख्यमंत्री के तौर पलानीस्वामी मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बिठा दिया था।