Monday , September 16 2019
Home / MainSlide / बढ़ती उम्र में दांतों की परेशानी से बचना हैं तो रखें उसका ख्याल

बढ़ती उम्र में दांतों की परेशानी से बचना हैं तो रखें उसका ख्याल

बढ़ती उम्र में अगर दांतों की परेशानी से बचना हैं तो उसका ख्याल रखकर काफी हद तक इस समस्या से बच सकते है। खाने में मौजूद विटामिन डी और कैल्शियम दांतों को मजबूत बनाता है, इसलिए ऐसा खाना खाएं जिसमें इन चीजों की मात्रा ज्यादा हो।इसके अलावा शुगर का सेवन कम करें, क्योंकि ज्यादा शुगर की वजह से कैविटी हो सकती है।

दांत स्वस्थ रहे इसके लिए नियमित रूप से इसकी जांच करवाना बहुत जरूरी है। कई बार लगता है कि हमारे दांत मजबूत हैं, लेकिन इसमें मौजूद गंदगी धीरे-धीरे इसे कमजोर बना देती है। इसलिए छह माह में एक बार डेंटिस्ट के पास जरूर जाएं और दांतों में किसी तरह की समस्या हो तो इसे नजरअंदाज न करें।

मुंह से संबंधित बीमारियां आपके दिल को भी प्रभावित करती हैं। कई शोधों में इस बात का खुलासा हो चुका है।दांतों के कारण अगर मसूड़ों में सूजन हो तो यह धमनियों तक फैल जाती है। इसके कारण दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। साथ ही गठिया और ऐल्टशाइमर्ज़ बीमारी भी हो सकती है।

मुंह में मौजूद सलाइवा दांतों को स्वस्थ और मजबूत रखने में मदद करता है। लेकिन अगर मुंह सूखा रहे तो दांतों और मसूड़ों के बीच मौजूद ये सलाइवा खत्म हो जाता है, जिसके कारण दांत कमजोर होने लगते हैं। ऐसे में जरूरी है कि मुंह को ज्यादा देर तक सूखा न रहने दें और जितना हो सके उतना पानी पिएं।

दांतों को स्वस्थ रखने में टूथब्रश की भूमिका भी बहुत अहम होती है। टूथब्रश अगर अच्छा हो तो दांतों की सफाई भी अच्छे से होती है, लेकिन अगर खराब क्वॉलिटी वाला ब्रश हो तो इससे मसूड़े कमजोर हो सकते हैं जिससे दांतों की समस्या हो सकती है।दांतों को स्वस्थ रखने और कैविटी से बचाने में फ्लोराइड की भूमिका अहम होती है। इसके अलावा फ्लोराइड दातों के इनामेल को बनाने में भी मदद करता है। इसलिए फ्लोराइडयुक्त टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें। आप फ्लोराइडयुक्त माउथवॉश का भी प्रयोग कर सकते हैं।

 

सम्प्रति – यह आलेख केवल मेडिकल जागरूकता के लिए है।बेहतर होगा कि आप चिकित्सक से परामर्श से ही कोई निर्णय ले।

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com