Thursday , December 9 2021
Home / MainSlide / संतों के आशीर्वाद से ही छत्तीसगढ़ में शांति और समृद्धि -रमन

संतों के आशीर्वाद से ही छत्तीसगढ़ में शांति और समृद्धि -रमन

राजिम 07 फरवरी।मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा है कि संतों के आशीर्वाद से ही छत्तीसगढ़ में शांति और समृद्धि है।आज अगर कोई भूखा नहीं सोता, यदि प्रदेश विकास के रास्ते पर तेजी से आगे बढ़ रहा है, तो संतों के आशीर्वाद से ही यह संभव हो रहा है।

डा.सिंह ने आज राजिम कुंभ में संत समागम का शुभारंभ करते हुए इस आशय के विचार प्रकट किए। डॉ. सिंह गंगा आरती में भी शामिल हुए।महानदी, पैरी और सोंढूर नदियों के पावन संगम पर राजिम कुंभ (कल्प) मेले में विराट संत-समागम का शुभारंभ जगत गुरू शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने किया।

डॉ.सिंह ने संत-समागम में शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती सहित सभी संत-महात्माओं का स्वागत करते हुए कहा कि इतनी बड़ी संख्या में उनकी उपस्थिति सबको प्रेरणा देने वाली है। डॉ. सिंह ने कहा  कि छत्तीसगढ़ के लोग धर्मपरायण हैं। मानवता के कल्याण की भावना के साथ संतों के सानिध्य में छत्तीसगढ़ की संस्कृति और अधिक समृद्ध हो इस उद्देश्य से राजिम के त्रिवेणी संगम में राजिम कुंभ का आयोजन शुरू किया गया है।

उन्होने कहा कि छत्तीसगढ़ की शांति और समृद्धि के लिए आज राजिम कुंभ में ढाई लाख से ज्यादा मिट्टी के दीये एक साथ प्रज्ज्वलित कर एक ऐतिहासिक कीर्तिमान बनाया गया है।राजिम में आयोजित नदी मैराथन में दस हजार लोगों ने शामिल होकर नदियों को बचाने का संकल्प लिया। डॉ. सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ पर हमेशा संतों की कृपा रही है। आगे भी संतों की कृपा छत्तीसगढ़ पर बनी रहेगी।

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने संत समागम को संबोधित करते हुए प्रदेश की जनता को आशीर्वाद प्रदान किया।उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य धर्मपरायण क्षेत्र है, जहां संतों की सेवा होती है। उन्होंने युवाओं को देश की ताकत बताया और कहा कि युवा पीढ़ी को नशे की बुराई से दूर रहना चाहिए।  धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने स्वागत भाषण दिया।