Saturday , November 27 2021
Home / MainSlide / शहरों के विकास के लिए अमरीकी मॉडल की बजाए नए माडल की जरूरत -कांत

शहरों के विकास के लिए अमरीकी मॉडल की बजाए नए माडल की जरूरत -कांत

हैदराबाद 30 नवम्बर।नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने कहा है कि भारत को शहरों के विकास के लिए अमरीकी मॉडल के बजाए खुद के टिकाऊ और नए मॉडल की जरूरत है।

श्री कांत ने यहां चल रहे वैश्विक उद्यमिता सम्मेलन में शहरों के बारे में एक परिचर्चा में पश्चिमी देशों के शहरी विकास मॉडल हुबहू अपनाने का कड़ा विरोध किया।उन्होंने कहा कि भारत में स्मार्ट शहर जन केंद्रित और रिसाइक्लिंग केंद्रित होते जा रहे हैं।

इस अवसर पर प्रसार भारती के मुख्य कार्यकारी अधिकारी शशि शेखर वेम्पटि ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मन की बात पारंपरिक और सोशल मीडिया के जरिये लोगों तक पहुंचने का सर्वश्रेष्ठ उदाहरण है। उन्होंने कहा कि आकाशवाणी से प्रधानमंत्री के आह्वान के बाद बेटियों के साथ सेल्फी और अतुल्य भारत जैसे सरकार के विभिन्न कार्यक्रम सोशल मीडिया पर वायरल हुए।

प्रधानमंत्री ने मन की बात के जरिये कई चीजें करने में सफलता पाई है। जैसे सेल्फी विद डॉटर जो न सिर्फ देश भर में बल्कि पूरी दुनिया में ट्विटर पर वायरल हो गया और दुनिया भर से लोगों ने अपनी बेटियों के साथ सेल्फी पोस्ट की। इससे बालिकाओं से जुड़े और महिला सशक्तिकरण जैसे मुद्दों पर ध्यान गया।