Friday , January 28 2022
Home / MainSlide / लोगों के जीवन में खुशहाली लाना राज्य सरकार का सबसे बड़ा काम-रमन

लोगों के जीवन में खुशहाली लाना राज्य सरकार का सबसे बड़ा काम-रमन

रायपुर 10अगस्त।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार का सबसे बड़ा काम लोगों के जीवन में खुशहाली लाना है।सरकार का प्रयास है कि राज्य के एक-एक व्यक्ति को बेहतर जीवन का अधिकार मिले और गरीब से गरीब व्यक्ति के घर खुशहाली आये।

डा.सिंह ने आज यहां इंडोर स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में ’मुख्यमंत्री मनरेगा मजदूर टिफिन वितरण योजना‘ का शुभारंभ करते हुए इस आशय के विचार प्रकट किए। उन्होंने प्रतीक स्वरूप कुछ मजदूरों को टिफिन वितरित कर और उनका मुंह मीठा कराके योजना का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि मजदूर भाइयों के लिए आज से प्रारंभ हो रही यह योजना मेरे दिल के करीब है।

उन्होने कहा कि प्रदेश में अगले एक से डेढ़ माह में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के दस लाख 83 हजार मजदूरों को तीन बॉक्स वाले टिफिन वितरित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी योजनाओं के माध्यम से राज्य सरकार का प्रयास गरीबों और मजदूरों के जीवन में खुशहाली लाने का है। गरीबों और मजदूरों के लिए स्मार्ट फोन, टिफिन, चरण पादुका, पक्का मकान, हर घर बिजली जैसी योजनाएं उनके स्वाभिमान से जुड़ी योजनाएं हैं।जो स्मार्ट फोन मुख्यमंत्री और राज्य सरकार के मंत्रियों के हाथ में है वही स्मार्ट फोन अब छत्तीसगढ़ के गरीबों, मजदूरों, महिलाओं और युवाओं के हाथों में होगा।

डा.सिंह ने बताया कि वे पिछले साल ग्राम सुराज अभियान में बिलासपुर जिले के सुदूर अंचल के एक गांव में मनरेगा का काम देखने पहंुचे थे, वहां मजदूर पेड़ की छांव में भोजन कर रहे थे। मजदूर बर्तन में, पोटली और प्लास्टिक में घर से भोजन लेकर आए थे। मुझे भी खाने की इच्छा हुई, एक महिला मजदूर ने अपने टिफिन से मुझे भी दाल-भात और चटनी दी। यहीं मेरे मन में मजदूरों के लिए टिफिन योजना प्रारंभ करने का विचार आया। इस योजना का आज शुभारंभ हो रहा है। टिफिन में मजदूरों के भोजन की सुरक्षा और शुद्धता सुनिश्चित हो सकेगी। स्वच्छ भोजन से बीमारियों से भी मजदूर दूर रहेंगे।लब्ध कराने की जिम्मेदारी राज्य सरकार पूरा करने का हर संभव प्रयास कर रही है।

इस मौके पर  पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री अजय चन्द्राकर, कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, खाद्य मंत्री पुन्नूलाल मोहले, लोक निर्माण मंत्री राजेश मूणत, छत्तीसगढ़ पाठ्य पुस्तक निगम के अध्यक्ष देवजी भाई पटेल, छत्तीसगढ़ राज्य भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण मंडल के अध्यक्ष मोहन एंटी भी उपस्थित थे।