Wednesday , July 6 2022
Home / MainSlide / लोक शिकायतों के ऑनलाइन निराकरण में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अव्वल

लोक शिकायतों के ऑनलाइन निराकरण में छत्तीसगढ़ पूरे देश में अव्वल

रायपुर 27 दिसम्बर।केन्द्रीय लोक शिकायत एवं प्रशासनिक सुधार विभाग के वेबपोर्टल ‘सीपीग्राम्स‘ में आवेदन पत्रों के निराकरण में छत्तीसगढ़ को पूरे देश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।

राज्य सरकार के जनशिकायत निवारण विभाग के अधिकारियों ने आज यहां बताया  कि सेन्ट्रल पब्लिक ग्रिवेन्स रिड्रेस एंड मॉनिटरिंग सिस्टम (सीपीग्राम्स) वेबपोर्टल से छत्तीसगढ़ सरकार को 18 हजार 735 आवेदन प्राप्त हुए थे। इनमें से 81.66 प्रतिशत अर्थात् 15 हजार 299 आवेदनों का निराकरण कर दिया गया। केन्द्रीय लोक शिकायत और प्रशासनिक सुधार विभाग द्वारा अक्टूबर 2017 की स्थिति में छत्तीसगढ़ को मामलों के निराकरण में देश के 29 राज्यों में पहले नम्बर पर पाया।

अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार के जनशिकायत निवारण विभाग द्वारा भारत सरकार के वेबपोर्टल ‘सीपीग्राम्स‘ के जरिये ऑन लाइन मिलने वाले आवेदन पत्रों का निराकरण शासन स्तर पर किया जाता है। राज्य में लोक शिकायतों के निराकरण के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग प्रणाली का भी उपयोग किया जा रहा है। सभी जिला मुख्यालयों से इस प्रणाली के जरिये मंत्रालय में आवेदकों का जनशिकायत निवारण विभाग के अधिकारियों का सीधा सम्पर्क होता है।

अधिकारियों के अनुसार इस प्रणाली में प्रतिदिन आठ जिलों के आवेदकों को अपने जिला मुख्यालय से ही मंत्रालय तक अपनी बात पहुंचाने का मौका मिल रहा है। आवेदक अपने जिले के कलेक्टर कार्यालय और मंत्रालय के अधिकारियों की उपस्थिति में  वीडियो वार्ता के जरिये अपनी समस्याओं की जानकारी देते हैं, जिन्हें मंत्रालय के अधिकारी रजिस्टर में नोट कर संबंधित विभागों को भिजवाते हैं। आवेदक निर्धारित दिवस पर अपने कलेक्टर कार्यालय के वीडियो कॉन्फ्रेंसिग कक्ष में आकर  निर्धारित दिनों में दोपहर एक बजे तक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जनसुनवाई में अपनी बात रख सकते हैं।