Tuesday , July 5 2022
Home / MainSlide / रविशंकर प्रसाद का किरन्दुल नहीं जाना रमन सरकार की विफलता – कांग्रेस

रविशंकर प्रसाद का किरन्दुल नहीं जाना रमन सरकार की विफलता – कांग्रेस

रायपुर 29 अक्टूबर।छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस ने  भाजपा के पक्ष में चुनाव प्रचार करने केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के नक्सल प्रभावित क्षेत्र किरन्दुल नहीं जाने पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा के नेता का भय की वजह से नही जाना निन्दनीय है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में बढ़ते नक्सलवाद के लिये रमन सिंह सरकार ही जिम्मेदार हैं। राज्य निर्माण के वक्त दक्षिण बस्तर के सीमावर्ती क्षेत्रों के तीन ब्लाक तक सीमित नक्सलवाद  15 साल में  14 जिलों तक पहुंचा गया।उन्होने कहा कि रविशंकर प्रसाद भाजपा का प्रचार प्रसार करने किरन्दुल नही जा सके तो वो किस मुंह से 15 साल की रमन सरकार की नक्सलवाद खत्म करने की गाथा गा रहे है ? रविशंकर प्रसाद और भाजपा को समझ आना चाहिए रमन सिंह सरकार 15 साल के कार्यकाल में छत्तीसगढ़ का विकास नही बल्कि विनाश हुआ है।

उन्होने कहा कि राज्य निर्माण के समय तीन ब्लाक तक सीमित नक्सलवाद का सुकमा, बीजापुर, दंतेवाड़ा, बस्तर, कोंडागांव, कांकेर, नारायणपुर, राजनंदगांव, बालोद, धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद, बलरामपुर, कबीरधाम, बस्तर तक पहुंचने से स्पष्ट हो गया, भाजपा की नीति में नक्सलवाद खत्म करना नही बल्कि लाल आंतक के बहाने विकास कार्यो में कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार करना और पांचवी अनुसूची क्षेत्रो के जल, जंगल, जमीन, वन संपदा, खनिज संपदा पर कब्जा करने की नीयत ज्यादा परिलक्षित हो रही है।