Sunday , May 29 2022
Home / MainSlide / रमन और प्रधान ने किया 1073 किलोमीटर पाइपलाइन का लोकार्पण

रमन और प्रधान ने किया 1073 किलोमीटर पाइपलाइन का लोकार्पण

कोरबा 29 नवम्बर।छत्तीसगढ़ के कोरबा में आज मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह एवं केन्द्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने पारादीप-रायपुर-रांची 1073 किलोमीटर पाइपलाइन का लोकार्पण किया।

डॉ. सिंह और श्री प्रधान ने केन्द्र सरकार की महत्वपूर्ण परियोजना के तहत पारादीप-रायपुर-रांची पेट्रोलियम पाइपलाइन, रायपुर और कोरबा के लिए ऑयल टर्मिनल और ओड़िशा के झारसुगुड़ा तथा संवर्धित जटनी ऑयल टर्मिनल सहित झारखण्ड के लिए रांची में निर्मित ऑयल टर्मिनल का भी लोकार्पण किया।पारादीप से रायपुर होते हुए रांची तक 1073 किलोमीटर लम्बी पाइपलाइन के द्वारा डीजल, पेट्रोल की लगातार आपूर्ति सुनिश्चित होगी।दोनो ने कोरबा एलपीजी बॉटलिंग प्लांट का शिलान्यास भी किया।

पेट्रोलियम मंत्री श्री प्रधान ने इस मौके पर कहा कि हम सबकी दिन-प्रतिदिन की जिन्दगी में डीजल, पेट्रोल और केरोसिन जरूरत की वस्तु बन गई है।केन्द्र और राज्य सरकारें मिलकर देश में सड़क, रेल और हवाई यातायात कनेक्टिविटी बढ़ाने का हर संभव प्रयास कर रही हैं। इसी कड़ी में अब भूमिगत पाइपलाइन के जरिए राज्यों के लिए पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति का नेटवर्क भी विकसित किया जा रहा है।यह इन पेट्रोलियम पदार्थों के परिवहन का सबसे सुरक्षित और भरोसेमंद और पर्यावरण हितैषी माध्यम होगा। लोगों को आसानी से पेट्रोलियम पदार्थ उपलब्ध कराना सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इस तकनीक से पेट्रोलियम पदार्थों के परिवहन में खर्च भी कम आएगा।

मुख्यमंत्री और केन्द्रीय मंत्री के हाथों कोरबा जिले के गोपालपुर में आज लोकार्पित इंडियन आयल टर्मिनल का निर्माण 219 करोड़ रूपए की लागत से किया है।इस टर्मिनल से छत्तीसगढ़ के दस जिलों-रायगढ़, कोरबा, जांजगीर-चांपा, बिलासपुर, मुंगेली, सूरजपुर, जशपुर, सरगुजा, बलरामपुर और कोरिया के 240 खुदरा केन्द्रों एवं 50 थोक खरीदारों को डीजल, पेट्रोल आपूर्ति की जाएगी। इस टर्मिनल में पारादीप-रांची-रायपुर पाइप लाइन से साल भर पेट्रोलियम उत्पादों की आपूर्ति होगी।

समारोह में लोकसभा सांसद डॉ. बंशीलाल महतो, छत्तीसगढ़ के नगरीय विकास और जिले के प्रभारी मंत्री श्री अमर अग्रवाल, संसदीय सचिव श्री लखन लाल देवांगन, विधायक कोरबा श्री जयसिंह अग्रवाल तथा महापौर कोरबा श्रीमती रेणु अग्रवाल सहित अनेक वरिष्ठ जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।