Saturday , January 22 2022
Home / MainSlide / मन को शक्तिशाली बनाने के लिए मेडिटेशन जरूरी -ब्रह्माकुमारी शिवानी दीदी

मन को शक्तिशाली बनाने के लिए मेडिटेशन जरूरी -ब्रह्माकुमारी शिवानी दीदी

रायपुर 28 सितम्बर।ब्रह्माकुमारी शिवानी दीदी ने कहा कि सारा दिन काम करते -करते हमारे मन की शक्ति कमजोर होने लगती है।इसलिए उसे मेडिटेशन के द्वारा चार्ज करने की जरूरत है।

ब्रह्माकुमारी शिवानी दीदी आज प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा शान्ति सरोवर में आयोजित कार्यक्रम में यथार्थ सोचने की कला विषय पर अपने विचार व्यक्त कर रही थीं। उनके साथ जाने-माने फिल्म अभिनेता सुरेश ओबेराय, क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी, ब्रह्माकुमारी आशा और मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी भी उपस्थित थीं।

उन्होने कहा कि हम सारी जिन्दगी सामान एकत्रित करते रह गए , जिन्दगी में मकान, गाड़ी सब कुछ पाया लेकिन सुकून नही पाया। सुकून पाने के लिए रोज सुबह आधा घण्टा हम अपने लिए समय निकालें। प्रभु चिन्तन और स्व चिन्तन करें तो जीवन में सुकून आ जाएगा और घर मन्दिर बन जाएगा। हम लोग काम में इतने ज्यादा व्यस्त हो गए हैं कि हमें अपने बारे में सोचने का समय ही नहीं है। इसलिए समाज में डिप्रेशन और कैंसर बहुत तेजी से फैल रहा है।

उन्होंने बताया कि मन जब बहुत थका हुआ होता है तो सुबह उठने के बाद भी और सोने का मन करता है। इसका प्रमुख कारण है कि शरीर का आराम तो पूरा हो गया किन्तु मन को पूरा आराम नहीं मिल पाया। नींद पूरी नहीं होने से वह रात में भी सक्रिय रहा है। उन्होंने बताया कि विश्व में इस समय सबसे अधिक बिकने वाली दवा नींद की गोली है। अगर हम लोगों ने अपने उपर समय रहते ध्यान नहीं दिया तो हमें भी नींद की गोली खाकर सोना पड़ेगा।

फिल्म अभिनेता सुरेश ओबेराय ने बतलाया कि ब्रह्माकुमारी संस्थान में मेडिटेशन सीखकर उनके जीवन में बहुत शान्ति आ गई।पहले उनका व्यक्तित्व बहुत अधिक रौबदार था। उन्हें बात-बात में क्रोध भी बहुत अधिक आता था। घर में लोग उनके पास आने से डरते थे लेकिन मेडिटेशन करने से जीवन ही बदल गया। अब घर में भी सुख और शान्ति आ गई है। मेडिटेशन से मन और जीवन दोनों शान्त हो जाता है।

 

समारोह में पूर्व लोकायुक्त न्यायमूर्ति एल. सी. भादू, पूर्व मुख्य सचिव शिवराज सिंह, मेउिकल कालेज की डीन डॉ. आभा सिंह, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अरूण देव गौतम सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सभा का संचालन ब्रह्माकुमारी अनिता दीदी ने किया।