Wednesday , January 26 2022
Home / MainSlide / मदरसों के बच्चों को आधुनिक शिक्षा जरूरी-बृजमोहन

मदरसों के बच्चों को आधुनिक शिक्षा जरूरी-बृजमोहन

रायपुर 28 सितम्बर।छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा है कि मदरसों में आधुनिक शिक्षा की पूरी व्यवस्था होनी चाहिए।मदरसों के बच्चों को आधुनिक बनाने के लिए आधुनिक शिक्षा देना आवश्यक है।

श्री अग्रवाल छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड द्वारा हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल पत्राचार पाठ्यक्रम में शामिल होने वाले बच्चों के लिए आयोजित दस दिवसीय छात्र संपर्क कार्यक्रम के समापन समारोह में आज इस आशय के विचार व्यक्त किए। बोर्ड की ओर से हर साल पत्राचार पाठ्यक्रम में शामिल होने बच्चों के लिए छात्र संपर्क कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है।इसके अंतर्गत बच्चों की दस दिन तक विशेष कक्षाएं लगाकर परीक्षा की तैयारियां करायी जाती है। इस साल के छात्र संपर्क पाठ्यक्रम में रायपुर शहर के 166 बच्चे शामिल हुए। पिछले साल इस कार्यक्रम में एक सौ बच्चे शामिल हुए थे। छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष श्री मिर्जा एजाज बेग ने उर्दू कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय शास्त्री बाजार में आयोजित समापन समारोह की अध्यक्षता की।

श्री अग्रवाल ने कहा कि मदरसों में बच्चों को आधुनिक शिक्षा देने हर संभव कोशिश होनी चाहिए। जिस दिन मदरसों में इस प्रकार की शिक्षा व्यवस्था होगी, भारत के गुलदस्ते में मुस्लिम समाज के बच्चे भी चमकने लगेंगे। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति की तरक्की के लिए समाज और देश की तरक्की जरूरी है। श्री अग्रवाल ने कहा कि मदरसों में बच्चों के लिए फर्नीचर की व्यवस्था की गई है। इस वर्ष बच्चों को शाला गणवेश भी दिए जा रहे हैं।कला समूह के साथ-साथ अब सांईंस और कॉमर्स में भी पत्राचार पाठ्यक्रम में परीक्षा देने की सुविधा उपलब्ध हो गई है। इसका लाभ मुस्लिम समाज के बच्चों को उठाना चाहिए।

छत्तीसगढ़ मदरसा बोर्ड के अध्यक्ष मिर्जा एजाज बेग ने कहा कि मदरसों में आधुनिक शिक्षा शुरू करने का श्रेय देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी को जाता है। उनके सार्थक  प्रयासों से ही देश के मदरसों में आधुनिक शिक्षा की व्यवस्था हुई। सभी समाज को साथ लेकर चलने की उनकी सोच और दूरदृष्टि ने मदरसों के बच्चों को आधुनिक शिक्षा से जोड़ने का काम किया है।