Wednesday , July 6 2022
Home / MainSlide / भूपेश ने नव निर्मित आवर्ती चराई गौठान का किया शुभारंभ

भूपेश ने नव निर्मित आवर्ती चराई गौठान का किया शुभारंभ

केशकाल 28 मई। विधानसभा केशकाल के धनोरा ग्राम में भेंट-मुलाकात अभियान के दौरान मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज नव निर्मित आवर्ती चराई गौठान का शुभारंभ किया और संचालित गतिविधियों से अवगत हुए।

श्री बघेल ने फीता काटकर आवर्ती चराई गौठान का शुभारंभ किया और गौठान का निरीक्षण किया। उन्होंने स्व सहायता समूह की महिलाओं के साथ सेल्फी भी ली।लगभग 10 हेक्टेयर में आवर्ती चराई गौठान बनाया गया है। जिसमे लगभग 5 हेक्टेयर में चारागाह विकास किया गया है। 2 हेक्टेयर क्षेत्र में आजीविका मूलक गतिविधियों का संचालन होगा, 1 एकड़ में मल्चिंग विधि से सब्जी उत्पादन का कार्य किया जा रहा है।

प्राकृतिक संसाधनो और जैव विविधता का संरक्षण करते हुए, उनसे लाभ अर्जन के साधन का सृजन कर ग्रामीणों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के उद्देश्य से शासन द्वारा वन भूमि में आवर्ती चराई गौठान स्थापित किए जा रहे हैं। इससे प्रमुख रूप से दो उद्देश्य की पूर्ति हो रही है, वन भूमि पर उत्पन्न जैव विविधता का संरक्षण और संवर्धन हो रहा है, साथ ही स्थानीय रूप से ग्रामीणों को रोजगार मिल रहा हैं। पहले जिन महिलाओं के लिए उनकी घर की चौखट ही परिधि थी, आज वे गौठानों और आवर्ती चराई योजना से मनुष्य और वन के बीच संतुलन स्थापित कर रही है और आजीविका मूलक गतिविधियों से लाभ कमा रही है।

धनोरा आवर्ती चराई गौठान के आजीविका मूलक केंद्र में 8 महिला समूहों द्वारा मुर्गी पालन, मशरूम पालन, बटेर पालन, सब्जी उत्पादन, बायोफ्लाक तकनीक से मछली पालन, बकरी पालन, शुकर पालन, गाय पालन, मसाला निर्माण इकाई का संचालन किया जा रहा है।