Tuesday , November 30 2021
Home / MainSlide / भूपेश झीरम के नाम पर झूठी सहानुभूति की तलाश में – कौशिक

भूपेश झीरम के नाम पर झूठी सहानुभूति की तलाश में – कौशिक

रायपुर 12 नवम्बर।छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष धरम कौशिक ने आरोप लगाया कि अमर्यादित कार्यों में कार्यवाई को प्रदेश में प्रशासनिक राजनीतिक आतंकवाद कहने वाले कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल अब अपनी ही पार्टी की अन्तर्कलहों के चलते झीरम घाटी के मुद्दे को जगाने का प्रयास रहे हैं।

श्री कौशिक ने आज यहां जारी बयान में श्री बघेल के झीरम पर दिये बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि झीरम घटना पर उस समय मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह जी के नेतृत्व में सरकार की तत्परता व संवदेनशीलता किसी से छुपी नही है। घटना के समय में कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व में ही यूपीए की सरकार थी।इनकी पार्टी किसी भी तरह की जांच कराने स्वतंत्र थी और एनआईए जांच कराई भी गई थी।

उन्होने कहा कि उस समय भाजपा ने घटना में मामले के पूरी तरह से खुलासा होने पर ही जोर दिया था। तभी तो इतनी बढ़ी घटना के बाद अल्प समय में ही ओछी राजनीति करने वालों को नकारकर छत्तीसगढ़ की जनता ने भाजपा को तीसरी बार जनादेश दिया। अब अपने सारे पैतरो के फेल होने के बाद झीरम की घटना को भाजपा का ब्रम्हास्त्र कहकर भूपेश जनता के बीच बने रहने के लिए झूठी सहानुभूति बटोरने का प्रयास कर रहे हैं।भारतीय जनता पार्टी के जन्म से आज तक जनता की सेवा सर्वोंपरि है और सत्त कर्म ही ब्रम्हास्त्र हैं।