Wednesday , July 6 2022
Home / MainSlide / भारत में विदेशी फिल्मों के निर्माण और शूटिंग के लिए मिलेंगी नकद सहायता –ठाकुर

भारत में विदेशी फिल्मों के निर्माण और शूटिंग के लिए मिलेंगी नकद सहायता –ठाकुर

नई दिल्ली 18 मई।सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने भारत में विदेशी फिल्मों के निर्माण और शूटिंग के लिए 260 हजार डॉलर की सीमा के साथ 30 प्रतिशत तक नकद सहायता की प्रोत्साहन योजना की घोषणा की हैं।

श्री ठाकुर ने आज कान फिल्म महोत्‍सव में भारतीय मंडप का उद्घाटन  करने भारत के 53वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के पोस्टर का भी अनावरणकरते हुए यह घोषणा की।श्री ठाकुर ने कहा कि भारत में बनाई जाने वाली विदेशी फिल्मों के लिए 15 प्रतिशत या अधिक भारतीय व्‍यक्तियों को काम पर रखने के लिए 65 हजार डॉलर की सीमा के साथ एक अतिरिक्त बोनस दिया जाएगा।

श्री ठाकुर ने कहा कि सरकार भारत को दुनिया का फिल्म निर्माण और फिल्‍मों की शूटिंग के लिए दुनिया का प्रमुख केन्‍द्र बनाने के लिए हर संभव प्रयास करेगी। उन्होंने इस वर्ष गोआ में होने वाले अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव  का हिस्सा बनने के लिए सभी को निमंत्रण दिया। श्री ठाकुर ने कहा कि भारत सरकार ने राष्ट्रीय फिल्म विरासत मिशन के अंतर्गत दुनिया की सबसे बड़ी फिल्म बहाली परियोजना शुरू की है। उन्होंने कहा कि इस अभियान के अंतर्गत, विभिन्न भाषाओं की 2200 फिल्मों का गौरव बहाल किया जाएगा।

श्री ठाकुर ने कहा कि भारत और फ्रांस 75वें कान फिल्म महोत्‍सव में सिनेमा और रचनात्मकता में उत्कृष्टता का उत्‍सव मनाने के लिए एक साथ आए हैं। श्री ठाकुर ने कहा कि इस वर्ष भारत अपनी स्‍वतंत्रता के 75वें वर्ष को आजादी का अमृत महोत्सव के रूप में मना रहा है तथा भारत और फ्रांस के बीच राजनयिक सम्‍बंधों के 75 वर्ष भी पूरे हो रहे हैं। इसके साथ ही कान फिल्म महोत्सव का भी यह 75वां वर्ष है। उन्होंने कहा कि यह साल इसलिए भी विशेष है क्योंकि मार्शे डू फिल्मोत्‍सव में भारत को सम्मानित देश का दर्जा दिया गया।

भारतीय सिनेमा की गहरी सामाजिक जड़ों की व्याख्या करते हुए श्री ठाकुर ने कहा कि भारतीय सिनेमा में रचनात्मकता, उत्कृष्टता और नवाचार सामाजिक और राष्ट्रीय महत्व के विषयों के साथ विकसित हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय सिनेमा ने भारतीय लोगों के मूल्यों, विश्वासों और अनुभवों के साथ आशाओं, सपनों और उपलब्धियों को भी प्रदर्शित किया है।

कार्यक्रम के दौरान, श्री ठाकुर ने सूचना और प्रसारण सचिव अपूर्व चंद्रा, फ्रांस में भारतीय दूत जावेद अशरफ और केन्‍द्रीय फिल्‍म प्रमाणन बोर्ड के अध्यक्ष प्रसून जोशी के साथ एक संवाद सत्र में भाग लिया। अभिनेता दीपिका पादुकोण, आर. माधवन, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, तमन्ना भाटिया, पूजा हेगड़े और उर्वशी रौतेला, फिल्म निर्देशक शेखर कपूर, संगीतकार ए.आर. रहमान और गायक मामे खान भी इसमें शामिल हुए।