Thursday , December 9 2021
Home / MainSlide / भारतमाला देश की सबसे बड़ी आधारभूत परियोजना- गडकरी

भारतमाला देश की सबसे बड़ी आधारभूत परियोजना- गडकरी

नई दिल्ली 25 अक्टूबर।सड़क परिवहन और जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारतमाला परियोजना देश की सबसे बड़ी आधारभूत परियोजना है और इससे रोजगार के एक करोड़ अवसर प्राप्त हो सकते हैं।

श्री गडकरी ने आज संवाददाता सम्मेलन में बताया कि इस परियोजना में देश के जनजातीय, सीमावर्ती और आर्थिक रूप से पिछड़े जिलों पर विशेष ध्यान दिया गया है। उन्होंने कहा कि रोजगार सृजन को ध्यान में रखते हुए 44 आर्थिक गलियारे स्थापित किए जा रहे हैं।

उन्होने कहा कि..इस योजना में देश में रोजगार का जो निर्माण है वो बड़े प्रमाण पर होगा। सात सौ साइट रोड से लायबिल्टी करके हमने आइडैन्टीफाई की है और जैसे सेकेट्ररी ने बताया कि 180 साइट हम लोग दो साल में शुरू करने के पीछे पड़े हैं। एक साइट में पांच सौ से सात सौ लोगों को डायरेक्ट एमप्लाएमेंट मिलता है।इसमें से जो आर्थिक कैरेडोर है, 44 आर्थिक कैरेडोर हम निर्माण कर रहे हैं। तो हर जगह पर हमारे इंडस्ट्रीयल ग्रोथ के लिए, इक्नोमिक ग्रोथ के लिए, लॉजिस्टीक कॉस्ट कैसे कम हो सकती है इसका विचार इसमें किया है।ये आर्थिक कैरेडोर जो इसके ऊपर हम लोग एक लाख 20 हजार करोड़ रूपए हम लोग खर्चा कर रहे हैं।इसमें 35 लॉजिस्टिक्स पार्क्स है और नागपुर और वाराणसी में हम लोग दो मल्टी मॉडल हब बना रहे हैं, जो हमने आपको दी है।

श्री गडकरी ने कहा कि नागपुर और वाराणसी में दो मल्टीमीडिया हब 35 लोजिस्टिक पार्क विकसित किए जा रहे हैं।इस परियोजना में 550 जिलों को रखा गया है। पहले इसमें तीन सौ जिले शामिल थे। उन्होंने कहा कि ब्रह्मपुत्र नदी में माल परिवहन के लिए सात जलमार्ग टर्मिनल बनाये जायेंगे। श्री गडकरी ने कहा कि 28 रिंग रोड़ बनाने और एक्सप्रेस राजमार्गों के निर्माण की भी योजना है।