Thursday , December 2 2021
Home / MainSlide / भाजपा ने उत्तरप्रदेश निकाय चुनावों में किया शानदार प्रदर्शन

भाजपा ने उत्तरप्रदेश निकाय चुनावों में किया शानदार प्रदर्शन

लखनऊ 01 दिसम्बर।उत्तरप्रदेश में विधानसभा चुनावों के बाद भाजपा ने आज शहरी निकाय चुनाव में शानदार प्रदर्शन किया है।प्रदेश के 16 नगर निगमों में से 14 पर भाजपा ने जीत दर्ज की है।निकाय चुनावों की इस जीत से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहली चुनावी परीक्षा में पास हो गए है।

राज्य में विधानसभा चुनावों में करारी हार का सामना कर पर चुकी बहुजन समाज पार्टी ने शहरी निकाय चुनावों में बेहतर प्रदर्शन करते हुए दो नगर निगमों अलीगढ़ व मेरठ में जीत दर्ज की है।हालांकि वह नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायतों में अपेक्षाकृत बेहतर प्रदर्शन नही कर सकी।वहां पर समाजवादी पार्टी ज्यादा सीटों पर दूसरे नम्बर पर रही। इन चुनाव से आम आदमी पार्टी ने भी राज्य में  दस्तक दी।

राज्य में भाजपा अपने खराब दिनों में भी काफी अच्छा प्रदर्शन करती रही थी।पिछले चुनाव में उसके पास उस समय़ के 12 नगर निगमों में से 10 नगर निगम कब्जे में थे।एक नगर निगम के महापौर के बाद में भाजपा में शामिल होने के बाद 12 में से 11 नगर निगम कब्जे में थे।उसके सामने पिछले प्रदर्शन को दोहराने की बड़ी चुनौती थी,जिसमें वह सफल रही।

भाजपा ने अयोध्या, मथुरा और वाराणसी समेत 16 में से 14 नगर निगमों के महापौर पद के उम्मीदवार विजयी हुए हैं।नगर पालिका परिषदों में भी भाजपा को बढ़त मिली है।भाजपा ने 68 नगरपालिका परिषद तथा 100 नगर पंचायत के अध्यक्ष पद पर भी कब्जा किया है।बसपा ने दो नगर निगमों में महापौर के पद पर जरूर कब्जा किया लेकिन अभी भी समाजवादी पार्टी ही दूसरे नम्बर की पार्टी है।

समाजवादी पार्टी नगरनिगमों में भले ही महापौर पद हासिल करने में विफल रही लेकिन 45 नगर पालिका निगमों में एवं 83 नगर पंचायतों में अध्यक्ष पद पर वह कब्जा जमाने में सफल रही।जबकि बसपा 29 नगरपालिका परिषदों एवं 45 नगर पंचायतों में अध्यक्ष पद पर कब्जा जमा पाई।राष्ट्रीय जनता दल ने भी दो नगर पंचायतों में अध्यक्ष पद जीत लिया। आम आदमी पार्टी ने भी राज्य में निकाय चुनावों में अपना खाता खोला।दो नगर पंचायतों में उनके अध्यक्ष जीतने में सफल रहे।