Saturday , January 29 2022
Home / MainSlide / बेटियों का विवाह दिल को छू लेने वाला मौका-रमन

बेटियों का विवाह दिल को छू लेने वाला मौका-रमन

रायपुर 22 जुलाई।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम यहां सरोना में मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में 119 जोड़ों को आशीर्वाद प्रदान किया।

समारोह का आयोजन राज्य सरकार के महिला एवं बाल विकास विभाग और राजपूत निःस्वार्थ सेवा संघ द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास तथा समाज कल्याण मंत्री श्रीमती रमशीला साहू, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती वीणा सिंह सहित उनके परिवार के सदस्य तथा राजपूत निःस्वार्थ सेवा संघ की अध्यक्ष श्रीमती इला कल्चुरी सहित बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद थे। आयोजन सरोना स्थित ठाकुर विघ्नहरण सिंह भवन में किया गया। समारोह में विभिन्न समाजों के वर-वधुओं का विवाह सम्पन्न हुए।

मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि 2005 से प्रारंभ इस योजना के तहत प्रदेश में विगत लगभग तेरह साल में गरीब परिवारों की 75 हजार बेटियों के विवाह सम्पन्न हो चुके हैं और उनकी गृहस्थी बसी है। उन्होंने कहा कि जब बेटियों का विवाह होता है तो यह प्रत्येक माता-पिता और परिवार के लिए एक भावुक क्षण और दिल को छू लेने वाला मौका होता है।

उन्होने सभी नवदंपत्तियों को सुखमय जीवन का आशीर्वाद देते हुए कहा कि जिस तरह विभिन्न रंग और खूशबू के फूल मिलकर एक गुलदस्ता बनाते है उसी तरह इस आयोजन में सभी वर्ग के लोग शामिल होते है जोकि छत्तीसगढ़ की पहचान और ताकत है। उन्होंने कहा कि पहले बेटी की शादी के लिए गरीब परिवारों को घर और जमीन तक बेचना पड़ जाता था पर अब बेटियों के विवाह की चिंता नही करनी पड़ती।मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सभी वर-वधुओं राजपूत निःस्वार्थ सेवा संघ द्वारा प्रदत्त उपहार एवं मुनगा और आवंला के पौधे भी वितरित किए।