Saturday , May 21 2022
Home / MainSlide / बिहार में पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार चरम पर

बिहार में पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार चरम पर

पटना 24 अक्टूबर।बिहार में पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार चरम पर है। इस चुनाव में दो मुख्‍य गठबंधन एनडीए और महागठबंधन के बीच कडा मुकाबला है।दोनों गठबंधन के नेता अपनी चुनावी सभाओं में आरोप-प्रत्‍यारोप के लिए कोई कसर नहीं छोड रहे हैं।

भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज लखीसराय में एक चुनावी सभा में कहा कि लोग इस बात से अवगत हैं कि राष्‍ट्रीय जनता दल के कार्यकाल में अपहरण, उद्योग का रूप ले चुका था।मुंगेर, गोपालगंज जिले के बरौली और पटना जिले के विक्रम में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने कहा कि भाजपा ही बिहार को आत्‍मनिर्भर बना सकती है।

जनता दल यूनाइटेड अध्‍यक्ष और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि एन डी ए ने राज्‍य को राष्‍ट्रीय जनता दल के कुशासन से बाहर निकाला है। दूसरी ओर महागठबंधन और अन्‍य विपक्षी दलों के नेताओं ने भी अपने प्रचार के दौरान एन डी ए पर निशाना साधने में कोई कसर नहीं छोडी।

राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने बांका के धौरेया में एक जनसभा में कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब थक गये हैं और बिहार के लोग अब युवा नेता के हाथों राज्य की कमान देखना चाहते हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और छत्तीसगढ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि केंद्र द्वारा लाये गये कृषि सुधार कानून किसानों और उपभोक्ताओं के विरोध में है।उन्होंने कहा कि यह पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए लाया गया है।

एआईएमआईएम के प्रमुख असद उद्दीन ओवैसी ने ग्रैंड डेमोक्रेटिक सेक्युलर फ्रंट के प्रत्याशियों के समर्थन में सभाएं की। पार्टी ने बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी सहित पांच अन्य दलों के साथ मिलकर यह गठबंधन बनाया है।