Wednesday , July 6 2022
Home / MainSlide / बस्तर में आ रहा है बदलाव- भूपेश

बस्तर में आ रहा है बदलाव- भूपेश

कोंडागांव 28 मई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि बस्तर में बदलाव आ रहा है।खेती की तरफ लोगो का रूझान बढ़ा है और नक्सलवाद की घटनाओं में कमी आई है।

श्री बघेल ने आज यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि वन संसाधन और वनाधिकार पट्टे दिए जा रहे, फलदार वृक्ष से पेड़ कटाई रुकेगी।अब ज्यादा से ज्यादा फलदार वृक्ष लगाने पर जोर दिया जा रहा है।कोंडागांव में भी गारमेंट के कार्य हो रहे, सभी को रोजगार मिल रहा है।उन्होने कहा कि गौठानों को रूरल इंडस्ट्रीयल पार्क के रूप में बदला जाएगा। जहां गोबर खरीदी के साथ-साथ अन्य एक्टिविटी भी किया जाएगा। जिससे लोगो के पास पैसा जाएगा।

उन्होने कहा कि गोबर से पेंट उत्पादन, बिजली, गोठान में तेल पेराई मशीन स्थापित कर कई रोजगार मूलक कार्य हो रहे।भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के अंतर्गत कल मैंने कोंडागांव विधानसभा क्षेत्र में लोगों से भेंट-मुलाकात की। लोगों से सीधी बातचीत कर योजनाओं का फीड बैक लिया।बस्तर में रुझान खेती की तरफ बढ़ा, सिंचाई की मांग बढ़ी है। बस्तर के जन-जीवन मे बड़ा परिवर्तन आया है, भू-जल का उपयोग बढ़ा है।नालों को रिचार्ज करने की जरूरत है। पेयजल उपलब्धता के लिए हम घर-घर नल लगा रहे, बस्तर में ज़्यादा काम करने की ज़रूरत है।

श्री बघेल ने कहा कि लोक संस्कृति को बचाने के लिए हम घोटूल और देवगुड़ी के जीर्णोद्धार का कार्य कर रहे हैं।बस्तर में अब बैंकों की मांग हो रही है, जबकि यहां कभी बैंक की मांग नही होती थी, यह अच्छा संकेत है।बस्तर बदल रहा, विकास की दिशा में तेजी से बढ़ रहा है। हम विश्वास विकास सुरक्षा को लेकर कार्य कर रहे हैं।हमारे कार्यों से लोगों का विश्वास बढ़ा है, नक्सल पीछे हटे हैं।