Tuesday , December 7 2021
Home / MainSlide / बजट से युवाओं को हुई घोर निराशा-उमेश पटेल

बजट से युवाओं को हुई घोर निराशा-उमेश पटेल

रायपुर 01 फरवरी। छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष उमेश पटेल ने कहा कि मोदी सरकार के अंतिम चुनावी बजट में युवाओं को सबसे ज्यादा निराशा हुई है।

श्री पटेल ने केन्द्रीय बजट पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा की लोकसभा चुनाव के पहले मोदी सरकार के अंतिम चुनावी बजट में युवाओं को सबसे ज्यादा निराश किया।उन्होने कहा कि मोदी सरकार के बजट को युवाओं के रोजगार के अवसर को समाप्त कर बेरोजगारी को बढ़ावा देने वाला बजट करार दिया। एक ओर जुमला प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 में वादा किया था की देश प्रतिवर्ष दो करोड़ युवाओं को रोजगार दिए जाएँगे वही वित्तमंत्री जी अपने बजट पर प्रति वर्ष 70 लाख रोजगार लोगों को रोजगार देने की बात कर रहे है।

उन्होने कहा कि 70 लाख रोजगार देने की बात लेकिन कैसे, इस पर कोई बात नहीं। कौशल उन्नयन की ट्रेनिग देकर रोजगार दिलाने की बात कही है जो पुरानी बात है।आखिर अच्छे दिन कब आएंगे। सेस बढ़ा दिया, इनकम टैक्स स्लैब में कोई बदलाव न कर मध्यम वर्ग के सपनों को तोड़ दिया।

श्री पटेल ने कहा कि लगातार बढ़ती हुईं महँगाई, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि से युवा वर्ग के साथ-साथ आमजन परेशान हो रही है।नोटबंदी, जीएसटी की मार के बाद भी सरकार ने इस बजट पर कोई भी महत्वपूर्ण निर्णय नहीं लिया गया है जिससे सभी वर्गों को लाभ मिल सके। यह बजट जुमलेबाजी का एक और नमूना ही है जिसमें महंगाई पर लगाम लगाने कोई योजना नहीं।